Twitter
Advertisement
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

Knee Pain Treatment: घुटनों से लेकर एड़ियों और कमर दर्द को बिना दवा खाए इन टिप्स से करें ठीक

घुटने से लेकर एड़ियों (Knee or Ankle Pain) या कमर दर्द (Backache) का कारण कई हो सकता है. कई बार हाई यूरिक एसिड (High Uric Acid) तो कई बार रीढ़ की हड्डी में दिक्कत (Spinal Problem) आने पर भी ये दर्द होता है.

Latest News
article-main

Back Pain Treatment

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

कई लोगों को हाथ, पैर, कमर और पीठ में दर्द (pain in hands, legs, waist and back) की समस्या रहती है. विशेषज्ञों के अनुसार, ऐसे लोगों को सिर्फ स्वस्थ खाना और अपनी प्रतिरक्षा प्रणाली (Strong Immune System) को मजबूत रखना नहीं है, बल्कि इन लोगों को  मांसपेशियों (Muscles Care)का भी ख्याल रखना चाहिए. क्योंकि कई बार स्पाइन डिस्क के खिसकने (Slipping of Spinal Disc) से भी कमर और पैरों में दर्द होता है. वहीं अगर शरीर में यूरिक एसिड ज्यादा (Excess Uric Acid) हो तो इससे घुटनों और एड़ियों में दर्द बढ़ जाता है.

अगर आपका दर्द यूरिक एसिड के कारण बढ़ रहा तो सभी एनिमल बेस्ड प्रोटीन लेना बंद कर दें. इसमें दूध और इससे बनी चीजें भी शामिल होती हैं. इसकी जगह आप रफेज और हाई फाइबर वाली चीजें लें. वहीं अगर दर्द का कारण आपकी रीढ़ की हड्डी या गलत पॉश्चर है तो उसे योग से सुधारें. किस समस्या में क्या न करें ये भी जान लें.

कमर दर्द-

पीठ दर्द के कारण आपका चलना और बैठना मुश्किल हो जाता है. इस दर्द से बचने के लिए जरूरी है कि आप व्यायाम करें, लेकिन कठिन व्यायाम से बचें. इस समस्या से राहत पाने के लिए योग और तैराकी का सहारा लिया जा सकता है. यह आपकी मांसपेशियों की ताकत को बनाए रखेगा. एक ही स्थिति में ज्यादा देर तक न बैठें और बीच-बीच में स्ट्रेचिंग करते रहें. इससे आपको दर्द से राहत मिलेगी.

टखने और पैर का दर्द-

बैठने और चलने पर पैर और टखने लगातार तनाव में रहते हैं. गलत मुद्रा के कारण टखने में दर्द होता है. इससे हड्डियों और लिगामेंट्स को भी नुकसान पहुंचता है. इसलिए हमेशा उचित मुद्रा में बैठें और पैरों पर दबाव डालने वाली गतिविधियों से बचें.

घुटनों के दर्द से कैसे छुटकारा पाएं?

अगर आप घुटनों के दर्द से पीड़ित हैं तो इस दर्द से बचने के लिए आपको नियमित रूप से टहलना चाहिए. इसके अलावा, आराम से स्ट्रेच करें. यह आपके शरीर के लचीलेपन में सुधार करेगा और मांसपेशियों के तनाव को भी कम करेगा. उकड़ु होकर बैठने से बचें और जमीन पर बैठना एवॉयड करें.

कलाई और हाथ में दर्द-

यदि आपकी कलाई और हाथ में दर्द है, तो खड़े होते, बैठते और चलते समय अपने कंधों को आराम से रखें. कार्यों के बीच छोटे-छोटे ब्रेक लें और कभी भी एक हाथ से कीबोर्ड का उपयोग न करें. इसके अलावा अपनी कलाई को गोल-गोल घुमाएं और उंगलियों को कभी मुट्ठी बांधे-कभी खोलते रहें.

Disclaimer: यह लेख केवल आपकी जानकारी के लिए है. इस पर अमल करने से पहले अपने विशेषज्ञ डॉक्टर से परामर्श लें.

देश-दुनिया की Latest News, ख़बरों के पीछे का सच, जानकारी और अलग नज़रिया. अब हिंदी में Hindi News पढ़ने के लिए फ़ॉलो करें डीएनए हिंदी को गूगलफ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और वॉट्सऐप पर.

Advertisement

Live tv

Advertisement
Advertisement