Twitter
Advertisement
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

Mantra Chanting: इन 5 मंत्रों के जाप से करें दिन की शुरुआत, भगवान के आशीर्वाद के साथ भाग्य और शरीर को मिलेगा लाभ

मंत्रों का जाप न सिर्फ व्यक्ति को भगवान से जोड़ता है. उसको मानसिक और शारीरिक रूप से स्वस्थ रखने में मदद करता है. नियमित मंत्रों के जाप से एकाग्रता से लेकर सोचने समझने की क्षमता बढ़ती है.

Latest News
Mantra Chanting: इन 5 मंत्रों के जाप से करें दिन की शुरुआत, भगवान के आशीर्वाद के साथ भाग्य औ�र शरीर को मिलेगा लाभ
FacebookTwitterWhatsappLinkedin

Mantra Chanting Benefits: हिंदू धर्म में किसी भ पूजा अर्चना में मंत्रों का उच्चारण जरूर किया जाता है. मंत्रों उच्चारण के जरिये भगवान का गुणगान किया जाता है. ज्योतिष शास्त्रों के अनुसार, मंत्रों का उच्चारण न सिर्फ भगवान का आशीर्वाद दिलाता है. साथ ही जीवन में सकारत्मक परिवर्तन करता है. जब भी ध्यान के साथ मंत्रों का उच्चारण दोहराया जाता है तो मंत्र हमारे विचारों, भावनाओं और व्यवहारों में स्थायी परिवर्तन लाते हैं. इससे न सिर्फ व्यक्ति का भाग्य जागृत होता है, बल्कि तन और मन भी सही रहता है. तनाव से मुक्ति मिलती है. नींद में सुधार होता है, जिन लोगों को ध्यान केंद्रित करने में परेशानियां आती है. उनकी यह समस्या खत्म जाती है. 

योगाचार्य और हेल्थ एक्सपर्ट्स का भी दावा है कि मंत्रों के उच्चारण (Mantra Chanting) से शारीरिक स्वास्थ्य भी सही रहता है. मानसिक रूप व्यक्ति मजबूत होता है. सोचने और समझने की क्षमता बढ़ जाती है. यही वजह है कि व्यक्ति को हर दिन इन 5 शक्तिशाली मंत्रों को जाप करना चाहिए. हर दिन इन 5 मिनट तक इन मंत्रों का जाप करने मात्र से ही सेहत में बड़े बदलाव होते हैं. आइए जानते हैं कौन से वो 5 मंत्र और इनसे मिलने वाले फायदे...

ओम नमः शिवाय 

ओम नमः शिवराय महादेव भगवान शिव को समर्पित मंत्रों में से एक है. यह बहुत ही शक्तिशाली मंत्र है. इस मंत्र का नियमित रूप से ध्यान मुद्रा में बैठकर जाप करने से पारलौकिक विधा या शुद्ध एकाग्रता की स्थिति प्राप्त होती है. महादेव की कृपा प्राप्त होती है. 

ओम सो हम

ओम सो हम एक ऐसा मंत्र है, जिसके उच्चारण मात्र से दिमाग और मन शांत होता है. यह सांसों को नियंत्रित करता है. अगर आप किसी तरह के तनाव से जूझ रहे हैं तो नियमित रूप से सुबह उठकर कम से कम मिनट तक ओम सो हम मंत्र का जाप करें. इससे आंतरिक शांति प्राप्त होती है. तनाव से मुक्ति मिल जाती है. 

लोकाः समस्ता सुखिनो भवन्तु 

लोकाः समस्ता सुखिनो भवन्तु सकारात्मक ऊर्जा और सार्वभौमिक कल्याण के जाप किये जाने वाला मंत्र है. इसे अक्सर योग करने के आखिरी में बोला जाता है. नियमित रूप से इस मंत्र का जाप आपको अंदर से शांति देता है. अहंकार से दूर ले जाता है. व्यक्ति के सकारात्मक ऊर्जा, सोच और प्रेम को बढ़ाता है. 

तयाता ओम बेकांज़े

तयाता ओम बेकांजे बुद्ध मंत्र है. इस मंत्र का जाप दर्द और समस्याओं निजात दिलाता है. हर दिन इस मंत्र के जाप से दैनिक रूप से होने वाली समस्याएं दूर होती हैं. व्यक्ति की सहनशीलता बढ़ती है. किसी भी तरह के दुख और दर्द दूर हो जाते हैं. यह बहुत ही शक्तिशाली मंत्रों में से एक है, जिसे दोहारना बेहद शुभ होता है. 

ओम मणि पद्मे हुं

ओम मणि पद्मे हुं यह मंत्र बौद्ध धर्म से आया है. यह करुणा के बोधिसत्व से संबंधित है. यह बौद्ध धर्म उच्चारण किये जाने वाले प्रमुख मंत्रों में से एक है. इस मंत्र के जाप से मन में करुणा और प्रेम भाव उत्पन्न होता है. नियमित रूप से इस मंत्र का जाप भावनाओं को जागृत करता है.

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. डीएनए हिंदी इसकी पुष्टि नहीं करता है.)

ख़बर की और जानकारी के लिए डाउनलोड करें DNA App, अपनी राय और अपने इलाके की खबर देने के लिए जुड़ें हमारे गूगलफेसबुकxइंस्टाग्रामयूट्यूब और वॉट्सऐप कम्युनिटी से

Advertisement

Live tv

Advertisement
Advertisement