Twitter
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

Poonam Chaturvedi: ये हैं भारत की सबसे लंबी बास्केटबॉल प्लेयर, उनके सामने बिग बी भी लगेंगे छोटे

हाइट की वजह पूनम को कई परेशानियां भी झेलनी पड़ती हैं. पूनम बताती हैं कि उन्हें दरवाजे, सीट, कपड़े, जूते और बहुत कुछ के लिए हर रोज संघर्ष करना पड़ता है

article-main

Poonam Chaturvedi

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

TRENDING NOW

डीएनए हिंदी: पूनम चतुर्वेदी को 7 फीट लंबे कद की बास्केटबॉल प्लेयर हैं. वह देश में सबसे लंबी महिला बास्केटबॉल प्लेयर हैं. जैसे ही वह प्लेग्राउंड में एंटर करती हैं जल्दी ही लोगों का ध्यान आकर्षित कर लेती है.  पूनम चतुर्वेदी के अपने दम पर कई स्पर्धाओं में अपनी टीम को जीत दिलाई है. पूनम की फैमिली की बात करें तो उनकी फैमिली में उनके पिता एक कांस्टेबल हैं जिनकी हाइट 5'10 फिट की है. उनके घर में सभी काफी लंबे हैं. पूनम के छोटे भाई की हाइट 6'4 फिट की है.

वह जहां भी जाती हैं लोग उनकी हाइट देख कर उनके साथ तस्वीरें क्लिक कराने लगते हैं.  

हालांकि, पूनम को उनकी हाइट की वजह कई परेशानियां भी झेलनी पड़ती हैं. पूनम बताती हैं कि उन्हें दरवाजे, सीट, कपड़े, जूते और बहुत कुछ के लिए हर रोज संघर्ष करना पड़ता है.

ये भी पढ़ें - स्कूल बस में फंसा था मोटा अजगर, रस्सी से बांधकर यूं हुई खींचतान और फिर...

पूनम जब 10वीं में थीं तब ही उनकी हाइट 6 फिट की हो गई थी. उसकी हाइट को देखते हुए उनके पिता के दोस्तों में से एक ने उन्हें किसी तरह के खेल में हिस्सा दिलाने का सुझाव दिया था. जिसके बाद पूनम के पिता ने उन्हें कानपुर के ग्रीन पार्क स्टेडियम ले गए जहां पूनम का दाखिला बास्केटबॉल में हुआ. पूनम दो साल तक यूपी के लिए खेली.

अपनी जर्नी के बारे में पूनम ने बताया, "जब मैं 2010 में राजनांदगांव, छत्तीसगढ़ में यूथ नेशनल खेलने गई तो पटेल सर ने मेरी हाइट पर ध्यान दिया और मुझे बुलाया. इसके बाद उन्होंने मेरे पिता से बात की और 2011 तक मैं छत्तीसगढ़ की टीम में आ गई थी."

यह भी पढ़ें: शादी के मंडप में दुल्हे के साथ हुआ कांड, दुल्हन को देख उड़ गए होश  

वह यहां जिस पटेल सर का जिक्र कर रही हैं, वह महान भारतीय बास्केटबॉल कोच राजेश पटेल हैं, जिनका 2018 में दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था.

इतना लंबी खिलाड़ी न केवल भारत में बल्कि अन्य देशों में भी दुर्लभ हैं. पूनम ने उल्लेख किया कि उसके पास विदेशी लीगों के प्रस्ताव थे. उन्होंने कहा, "जब मैं छत्तीसगढ़ के साथ थी पटेल सर को इस तरह के फोन आते थे, लेकिन मैं नहीं जाना चाहती थी क्योंकि मैं शाकाहारी हूं और विदेश में मुझे मांसाहारी भोजन का सहारा लेना पड़ सकता है."

2019 में एक सफल परीक्षण के बाद पूनम को पूर्वी रेलवे की तरफ से साइन किया गया था. मौजूदा वक्त में वह हावड़ा में एक वरिष्ठ क्लर्क के रूप में तैनात है.

देश-दुनिया की ताज़ा खबरों Latest News पर अलग नज़रिया, अब हिंदी में Hindi News पढ़ने के लिए फ़ॉलो करें डीएनए हिंदी को गूगलफ़ेसबुकट्विटर और इंस्टाग्राम पर.
 

देश और दुनिया की ख़बर, ख़बर के पीछे का सच, सभी जानकारी लीजिए अपने वॉट्सऐप पर-  DNA को फॉलो कीजिए

Live tv