Twitter
Advertisement
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

Y S Sharmila को हाउस अरेस्ट का डर, ऑफिस में ही बिता दी रात, समझें पूरी बात

Y S Sharmila आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी की बहन हैं. उन्होंने अपने भाई की पार्टी छोड़कर Congress का हाथ थाम लिया था. तब से ही वे मुश्किलों में हैं.

Latest News
article-main

Andhra Pradesh APCC chief YS Sharmila Reddy.

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

आंध्र प्रदेश कांग्रेस चीफ YS शर्मिला रेड्डी को हाउस अरेस्ट (House Arrest) का डर सता रहा है. गिरफ्तारी से बचने के लिए शर्मिला रेड्डी ने कांग्रेस दफ्तर में ही पूरी रात बिता दी. वे ऑफिस के फर्श पर लेटी नजर आ रही हैं. विजयवाड़ा स्थित दफ्तर में शर्मिला रेड्डी पूरी रात दफ्तर में सोती नजर आईं.

YS शर्मिला ने आरोप लगाया कि गुरुवार को प्रस्तावित 'चलो सचिवालय' विरोध प्रदर्शन में उन्हें रोकने के लिए राज्य भर के कांग्रेस नेताओं को पुलिस ने हिरासत में ले लिया और 'घर-घर नजरबंद' कर दिया.

क्यों कांग्रेस दफ्तर में रातभर रहीं YS शर्मिला?
कांग्रेस का आरोप है कि चलो सचिवालय आंदोलन के मद्देनजर पुलिस राज्य भर में कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं को नजरबंद कर रही .

शर्मिला को लगा कि अगर वे अपने आवास पर जाएंगी तो उन्हें हाउस अरेस्ट किया जाएगा, इसलिए उन्होंने पार्टी दफ्तर में रुकने का फैसला किया. 
 


इसे भी पढ़ें- कौन हैं IPS Vandita Rana, जिन्हें घोड़ी पर बैठाकर दी गई यादगार विदाई


गुरुवार सुबह शर्मिला एक बार फिर चलो सचिवालय आंदोलन के लिए रवाना होंगी. कांग्रेस कार्यकर्ताओं का कहना है कि उनकी वजह से लोगों की परेशानी बढ़ रही है.

शर्मिला ने ऐलान किया कि वह हर हाल में 'चलो सेक्रेटेरिएट' मूवमेंट में शामिल होंगी. शर्मिला ने कांग्रेस नेताओं को हिरासत में लेने के लिए जगन सरकार पर जमकर हमला बोला.

YSR शर्मिला ने कहा कि अगर आप बेरोजगारों की ओर से संघर्ष का आह्वान करते हैं, तो क्या आप नजरबंद होंगे? हजारों कार्यकर्ताओं को क्यों रोका जा रहा है? क्या लोकतंत्र में हमें विरोध करने का अधिकार नहीं है? 

शर्मिला ने जगन ने सरकार से पूछा, 'क्या यह शर्म की बात नहीं है कि मैं एक महिला हूं और मुझे पुलिस से बचना पड़ा और नजरबंदी से बचने के लिए कांग्रेस पार्टी के कार्यालय में रात गुजारनी पड़ी? क्या हम आतंकवादी हैं या असामाजिक ताकतें हैं? वे हमें रोकने की कोशिश कर रहे हैं. इसका मतलब है कि वे हमसे डरते हैं.'


इसे भी पढ़ें- Modi Cabinet: स्पेस सेक्टर में 100 पर्सेंट FDI, गन्ने की कीमत और महिला सुरक्षा, मोदी सरकार ने CCEA की मीटिंग में लिए ये फैसले


 

YS शर्मिला ने कहा, 'यह अपनी अक्षमता को छुपाने की कोशिश करने जैसा है. भले ही वे हमें रोकने की कोशिश करें, भले ही वे हमारे कार्यकर्ताओं को हर जगह रोकने की कोशिश करें, भले ही वे उन्हें बैरिकेड्स से बांधने की कोशिश करें, बेरोजगारों के पक्ष में संघर्ष नहीं रुकेगा.'

YS शर्मिला रेड्डी हैं कौन?
YS शर्मिला रेड्डी आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री वाईएस राजशेखर रेड्डी की बेटी हैं. उनके भाई मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी हैं. वे जगन मोहन की छोटी बहन हैं.  शर्मिला रेड्डी के अपने भाई से हमेशा सियासी तौर पर नाराजगी रही है. 

शर्मिला अपने भाई के साथ ही वाईएसआर कांग्रेस पार्टी में अच्छे पद पर थीं लेकिन जुलाई 2021 में उन्होंने पार्टी से इस्तीफा दे दिया. अब वे कांग्रेस में हैं. उनके पति का नाम अनिल कुमार है. उनके दो बच्चे हैं जिनका नाम राजा और अंजलि है.

देश-दुनिया की ताज़ा खबरों Latest News पर अलग नज़रिया, अब हिंदी में Hindi News पढ़ने के लिए फ़ॉलो करें डीएनए हिंदी को गूगलफ़ेसबुकट्विटर और इंस्टाग्राम पर.

Advertisement

Live tv

Advertisement
Advertisement