Twitter
Advertisement
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

Ranji Trophy: चोटिल बताकर रणजी से बाहर हुए थे Shreyas Iyer, अब NCA ने खोल दी पोल

Shreyas Iyer NCA Report: मध्यक्रम के बल्लेबाज श्रेयस अय्यर ने खुद को चोटिल बताकर रणजी ट्रॉफी के क्वार्टर फाइनल मैच से अपना नाम वापस ले लिया था, लेकिन नेशनल क्रिकेट एकेडमी ने उन्हें फिट बताया है.

Latest News
article-main

श्रेयस अय्यर

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

बीसीसीआई की हिदायत के बावजूद टीम इंडिया के स्टार खिलाड़ी रणजी ट्रॉफी से दूरी बनाए हुए हैं. ईशान किशन और दीपक चाहर ने खुद को अपनी घरेलू टीमों के लिए उपलब्ध नहीं बताया, तो वहीं श्रेयस अय्यर को क्वार्टर फाइनल मैच के लिए मुंबई की टीम में चुना गया था. पर उन्होंने खुद को चोटिल बताकर 23 फरवरी से बड़ौदा के खिलाफ होने वाले मुकाबले से अपना नाम वापस ले लिया था. अब नेशन क्रिकेट एकेडमी (NCA) ने उनकी पोल खोल दी है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, एनसीए में स्पोर्ट्स साइंस एंड मेडिसिन प्रमुख नितिन पटेल ने श्रेयस अय्यर को फिट बताया है.

श्रेयस अय्यर ने बताया पीठ में ऐंठन

23 फरवरी से मौजूदा रणजी सीजन के नॉक आउट मुकाबले शुरू हो रहे हैं. मुंबई को दूसरे क्वार्टर फाइनल में बड़ौदा से भिड़ना है. इस मैच के लिए श्रेयस को मुंबई के स्क्वॉड में चुना गया था, लेकिन उन्होंने पीठ में ऐंठन बताकर अपना नाम वापस ले लिया. श्रेयस लंबे समय से पीठ की चोट से जूझते रहे हैं. इस चोट के कारण ही वह पूरे IPL 2023 से बाहर हो गए थे. हालांकि एनसीए के नितिन पटेल ने बताया कि श्रेयस को फिलहाल कोई चोट नहीं है. उन्होंने इसकी जानकारी मेल के माध्यम से चयनकर्ताओं को भी दे दी है.


ये भी पढ़ें: रांची टेस्ट में डेब्यू करेंगे 'सासाराम एक्सप्रेस' Akash Deep? कुछ ही दिनों पहले अंग्रेजों को चटाई थी धूल


रणजी से किनारा करने पर एक्शन ले सकता है बीसीसीआई

श्रेयस को इंग्लैंड के खिलाफ पहले दो टेस्ट मैचों के लिए भारतीय टीम में चुना गया था, लेकिन वह कुछ खास नहीं कर पाए. उन्होंने चार पारियों में 35, 13, 27 और 29 का स्कोर बनाया. 29 वर्षीय यह बल्लेबाज साउथ अफ्रीक दौरे पर भी फ्लॉप रहा था. ऐसे में उन्हें इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी तीन टेस्ट मैचों के लिए टीम इंडिया से बाहर कर दिया गया. शुरू में समझा जा रहा था कि श्रेयस चोटिल हैं, लेकिन बीसीसीआई ने अपनी प्रेस रिलीज में इसका जिक्र नहीं किया. टीम इंडिया के सेलेक्टर्स ने बीसीसीआई की मेडिकल टीम से इनपुट लेने के बाद श्रेयस को रणजी ट्रॉफी खेलने के लिए कहा ताकि उनकी पीठ लंबे समय तक बल्लेबाजी और फील्डिंग करने की आदी हो जाए. 

अब एनसीए की रिपोर्ट आने के बाद समझा जा रहा है कि श्रेयस ने बहाना बनाकर रणजी को नजरअंदाज किया है. ऐसे में बीसीसीआई उनके खिलाफ एक्शन ले सकती है. 

बता दें कि बीसीसीआई घरेलू क्रिकेट को नजरअंदाज करने वाले खिलाड़ियों पर एक्शन के मोड में है. सचिव जय शाह ने सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट वाले खिलाड़ियों को चिट्ठी लिखकर हिदायत दी है कि जो टीम से बाहर हैं, उन्हें हरहाल में घरेलू क्रिकेट में खेलना है. अगर खिलाड़ी इसका पालन नहीं करते हैं, तो बोर्ड उन पर अनुशासनात्मक कार्रवाई भी कर सकती है.

देश-दुनिया की ताज़ा खबरों Latest News पर अलग नज़रिया, अब हिंदी में Hindi News पढ़ने के लिए फ़ॉलो करें डीएनए हिंदी को गूगलफ़ेसबुकट्विटर और इंस्टाग्राम पर.

Advertisement

Live tv

Advertisement
Advertisement