Twitter
Advertisement
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

Sri Lanka ने दिया China को बड़ा झटका, भारतीय कंपनी के लिए ठुकराई ड्रैगन के साथ बड़ी डील

Sri Lanka Scraps Deal With China: श्रीलंका ने चीन को बड़ा झटका देते हुए भारतीय हितों को तरजीह दी है. रानिल विक्रमसिंघे की सरकार ने चीनी कंपनी के साथ किए गए एनर्जी डील को रद्द कर दिया है.

Latest News
article-main

Sri Lanka Signs Deal With Indian Company

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

श्रीलंका भी चीन (Sri Lanka China Relation) के कर्ज के मकड़जाल को समझ चुका है और अब भारत के ज्यादा करीब आने की कोशिश कर रहा है. चीन के कर्ज की वजह से ही श्रीलंका को भयंकर आर्थिक संकट का सामना करना पड़ा था. शी जिनपिंग की एक महत्वाकांक्षी डील रद्द करने के साथ ही विक्रमसिंघे सरकार ने यह डील अब एक भारतीय कंपनी को सौंपा है. इस डील के तहत भारतीय कंपनी जाफना के एक द्वीप में तीन सौर एक पवन हाइब्रिड बिजली उत्पादन फैसिलिटी बनाने का जिम्मा दिया गया है.

चीन के साम्राज्यवादी मंसूबों को लगा झटका
एशिया में चीन (China) के साम्राज्यवादी मंसूबों को इससे बड़ा झटका लगेगा. भारत ने चीन और श्रीलंका की इस डील पर चिंता जताई थी, लेकिन अब यह करार रद्द हो चुका है. भारत के पड़ोसी देशों के साथ चीन की दखलअंदाजी और घनिष्ठता दोनों बढ़ी है. पिछले कुछ सालों में यह भारत के लिए एक बड़ी कूटनीतिक चिंता बनकर सामने आई है.


यह भी पढ़ें: टिकट कटने के बाद Harsh Vardhan की भावुक पोस्ट, 'जड़ों की ओर लौटने का वक्त'


डील को लेकर भारत ने जाहिर की थी अपनी चिंता
श्रीलंका और चीन के बीच इस डील को लेकर भारत ने अपनी नाखुशी जाहिर की थी, जिसकी वजह से दो साल पहले ही श्रीलंकाई सरकार ने इस पर अस्थायी रोक लगा दी थी. अब इसे रद्द कर दिया गया है और इसके लिए भारत सरकार ने 11 मिलियन डॉलर का अनुदान भी दिया है. दिवालिया होने की कगार पर पहुंच चुके श्रीलंका की भारत ने मुश्किल वक्त में मदद की थी. इसका नतीजा अब दोनों देशों के संबंधों में भी नजर आ रहा है.


यह भी पढ़ें: आसनसोल से चुनाव नहीं लड़ेंगे पवन सिंह, BJP ने बनया था उम्मीदवार


बेंगलुरु की कंपनी को मिली अहम डील 
भारतीय कंपनी को श्रीलंका में एनर्जी डील का ठेका मिलने की पुष्टि भारतीय दूतावास ने एक्स पर की है. दूतावास ने ट्वीट कर बताया कि अब बेंगलुरु स्थित भारतीय कंपनी यू-सोलर इस अहम काम काम को पूरा करने वाली है. दूतावास ने एक बयान में कहा कि भारत की सहायता ने द्विपक्षीय ऊर्जा साझेदारी से जुड़ी नई दिल्ली की महत्ता को बताया है. 

देश-दुनिया की ताज़ा खबरों Latest News पर अलग नज़रिया, अब हिंदी में Hindi News पढ़ने के लिए फ़ॉलो करें डीएनए हिंदी को गूगलफ़ेसबुकट्विटर और इंस्टाग्राम पर.

Advertisement

Live tv

Advertisement
Advertisement