Twitter
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

रूस में प्रकृति बरपाएगी कहर! धधक रहा है लावा, कभी भी हो सकता है ज्वालामुखी विस्फोट

Russia’s Shiveluch Volcano: शिवलुच ज्वालामुखी रूस का सबसे सक्रिय ज्वालामुखी है और सुदूर पूर्व प्रायद्वीप में स्थित है.

article-main

डीएनए हिंदी वेब डेस्क

Updated: Nov 21, 2022, 11:11 AM IST

Edited by

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

TRENDING NOW

डीएनए हिंदी: Russia’s Shiveluch Volcano: रूस में एक प्राकृतिक आपदा की आशंका जाताई जा रही है. ज्वालामुखी विस्फोट प्रतिक्रिया टीम ने चेतावनी दी है कि रूस के शिवलुच (Shiveluch) शिखर पर ज्वालामुखी अत्यधिक सक्रिय है और किसी भी समय एक शक्तिशाली विस्फोट हो सकता है. वेधशाला के अनुसार, देश के सबसे सक्रिय ज्वालामुखी और रूसी सुदूर पूर्व प्रायद्वीप में सबसे बड़े ज्वालामुखी पर्वत में से एक है. यहां शनिवार को लगभग 13000 फीट की ऊंचाई तक ज्वालामुखी की राख का ढेर नजर आया.

ऐसा देखने में नजर आया कि शिवलुच शिखर में लावा के गुंबदों का लगातार विस्तार जारी है. आसपास धुएं का गुबार नजर आ रहा है. धधकते लावा का लाल रंग तस्वीरों कैद किया गया है. इसके साथ ही बड़ी मात्रा में राख के साथ का विस्फोट होने की संभावना है, जो कभी भी हो सकता है. इस प्राकृतिक आपदा के चलते अंतरराष्ट्रीय गतिविधियां और उड़ानों की संख्या प्रभावित होंगी.

ये भी पढ़ें - गन फायरिंग से दहला कोलोराडो, गे क्लब गोलीबारी में 5 की मौत, 18 घायल

ज्वालामुखी का गुंबद बहुत गर्म हो गया है और रात में चमकता रहता है, रूसी एकेडमी ऑफ साइंसेज की सुदूर पूर्व शाखा के ज्वालामुखी और भूकम्प विज्ञान संस्थान के निदेशक अलेक्सी ओज़ेरोव ने रूसी राज्य मीडिया आरआईए को बताया . "रात में गुंबद लगभग पूरी सतह पर चमकता रहता है. 1000 डिग्री सेल्सियस के तापमान के साथ गर्म हिमस्खलन ढलानों पर लुढ़कते हैं."

ये भी पढ़ें - रूस ने यूक्रेन पर तेज की बमबारी, यूक्रेनी सेना ने भी पार की क्रूरता की सारी हदें

नासा के अनुसार, सबसे शक्तिशाली विस्फोट शिवलुच पर आखिरी बार 2009 में दर्ज किया गया था. कामचटका के सबसे बड़े ज्वालामुखियों में से एक शिवलुच का शिखर 3,283 मीटर (10,771 फीट) तक पहुंच गया है. यह पिछले 10,000 वर्षों में अनुमानित 60 बड़े विस्फोटों के साथ रूसी प्रायद्वीप के सबसे सक्रिय ज्वालामुखी में से एक है.

देश-दुनिया की ताज़ा खबरों Latest News पर अलग नज़रिया, अब हिंदी में Hindi News पढ़ने के लिए फ़ॉलो करें डीएनए हिंदी को गूगलफ़ेसबुकट्विटर और इंस्टाग्राम पर. 

देश और दुनिया की ख़बर, ख़बर के पीछे का सच, सभी जानकारी लीजिए अपने वॉट्सऐप पर-  DNA को फॉलो कीजिए

Live tv