Twitter
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

Reliance Jio: दिनभर में कितनी देर फोन पर बात करते हैं भारतीय, कंपनी ने जारी किए आंकड़े

Reliance Jio ने 2022 की चौथी तिमाही के आंकड़े जारी किए हैं जिसमें कंपनी को मोटा मुनाफा हुआ है.

article-main

डीएनए हिंदी वेब डेस्क

Updated: May 08, 2022, 08:48 AM IST

Edited by

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

TRENDING NOW

डीएनए हिंदी: साल 2016 में 4G Internet की क्रांति लाने वाला रिलायंस जियो (Reliance Jio) आज भी देश में सबसे ज्यादा यूजर बेस वाली टेलीकॉम नेटवर्क है. इसके नेटवर्क पर डेटा की खपत में भारी बढ़ोतरी हुई है. 6 मई को कंपनी ने वित्त वर्ष 2021 का अपना रिजल्ट जारी किया है. कंपनी ने बताया कि वित्त वर्ष 2021-22 में जियो के नेटवर्क पर यूजर्स ने 91.4 अरब जीबी डेटा यूज किया है जो कि एक बड़ा रिकॉर्ड माना जा रहा है.

रिकॉर्ड स्तर पर पहुंची डाटा खपत

गौरतलब है कि साल 2022 के शुरुआती तीन महीनों में Reliance Jio का आंकड़ा 24.6 अरब जीबी के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया है. ध्यान देने वाली बात यह भी है कि पिछली तिमाही के मुकाबले यह 47.5 परसेंट अधिक है. कंपनी की मानें तो एक जियो यूजर ने औसतन हर महीने 19.7GB डेटा यूज किया है.

कितना हुआ नेटवर्क का इस्तेमाल

वहीं कंपनी ने यह भी बताया है कि Reliance Jio यूज़र्स फोन पर कितनी देर बात करते हैं. वहीं कॉलिंग की बात करें तो हर जियो यूजर ने प्रति महीने औसतन 968 मिनट बात करते हैं. इसका मतलब यह हुआ कि जियो यूज़र्स लगभग 32 मिनट रोजाना बात करते हैं. पिछले साल के मुकाबले जियो नेटवर्क वॉयस ट्रैफिक 17.9 परसेंट बढ़कर 4,51,000 करोड़ मिनट हो गया है.

वहीं यदि Reliance Jio के ही जियो फाइबर की बात करें तो लॉन्च के 2 साल के भीतर ही Jio Fiber देश का सबसे बड़ा ब्रॉडबैंड सर्विस प्रोवाइडर बन गया है. करीब 50 लाख घरों सहित जियोफाइबर ने 60 लाख से अधिक कैंपस को अपने नेटवर्क से जोड़ है. घरों में पिछले वित्त वर्ष जितने ब्रॉडबैंड कनेक्शन लगाए गए उनमें से दो तिहाई जियोफाइबर के थे.

जियो को हुआ मुनाफा

ऐसे में लगातार बढ़ते कारोबार के बीच कंपनी ने 5G लॉन्च की तैयारी पूरी कर ली है. इसके लिए जियो ने 8 राज्यों में फील्ड ट्रायल किए हैं. इन टेस्ट में 1.5Gbps से अधिक स्पीड मिल रही है. एवरेज रेवेन्यू पर यूजर (ARPU) की बात करें तो जनवरी से मार्च 2022 की चौथी तिमाही में 167.6 रुपये रहा है. आखिरी तिमाही में रिलायंस जियो का स्टैंडअलोन प्रॉफिट 24 परसेंट बढ़कर 4,173 करोड़ रुपये पहुंच गया है.

IAF में लड़ाकू विमानों की भारी कमी से चिंतित रक्षा मंत्रालय, कहा- चीन से मुकाबले में बढ़ सकती हैं मुश्किलें

आपको बता दें कि 31 मार्च 2022 को खत्म हुए वित्तीय वर्ष में कंपनी ने स्टैंडअलोन रेवेन्यू में भी रिकॉर्ड बनाया है. जानकारी के मुताबिक कंपनी का रेवेन्यू मार्च 2022 में 20 परसेंट बढ़कर 20,901 करोड़ रुपये हो गया. इससे पहले मार्च 2021 में यह 17,358 करोड़ रुपये था. ऐसे में रिलायंस जियो (Reliance Jio)  भारत के अन्य किसी भी नेटवर्क से कही ज्यादा आगे है.

Jared Birchall मैनेज करते हैं दुनिया के सबसे अमीर शख्स Elon Musk की संपत्ति

गूगल पर हमारे पेज को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें. हमसे जुड़ने के लिए हमारे फेसबुक पेज पर आएं और डीएनए हिंदी को ट्विटर पर फॉलो करें. 

देश और दुनिया की ख़बर, ख़बर के पीछे का सच, सभी जानकारी लीजिए अपने वॉट्सऐप पर-  DNA को फॉलो कीजिए

Live tv