Twitter
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

Ranji Trophy 2022: जानिए कौन हैं 16 साल के फेइरोजाम सिंह, जिसने रणजी डेब्यू में ही अपनी गेंदबाजी से मचाया तहलका

Pheiroijam Jotin Singh अपने पहले ही रणजी ट्रॉफी मैच में एक पारी में 9 विकेट चटकाने वाले महज चौथे भारतीय और दुनिया के 10वें गेंदबाज बने हैं.

article-main

कुलदीप पंवार

Updated: Dec 14, 2022, 10:46 PM IST

Edited by

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

TRENDING NOW

डीएनए हिंदी: रणजी ट्रॉफी 2022 (Ranji Trophy 2022) की शुरुआत बुधवार को सुर्खियों से भरी रही है. एकतरफ गोवा में मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) के बेटे अर्जुन तेंदुलकर (Arjun Tendulkar Debut Century in Ranji Trophy) ने अपने पहले ही मैच में शतक ठोककर पिता का कारनामा दोहरा दिया. वहीं गोवा से करीब हजार किलोमीटर दूर गंगटोक (Gangtok) की पहाड़ियों में एक और युवा क्रिकेटर ने अपने रणजी ट्रॉफी डेब्यू पर ऐसा काम किया, जो उनका नाम हमेशा के लिए क्रिकेट इतिहास में दर्ज करा गया. मणिपुर (Manipur Cricket Team) के महज 16 साल के मध्यम तेज गति के गेंदबाज फेइरोजाम जोटिन सिंह (Pheiroijam Jotin Singh) ने सिक्किम (Sikkim Cricket Team) के खिलाफ बुधवार को प्लेट ग्रुप मैच की पहली पारी के दौरान 22 ओवर में 5 मेडन के साथ 69 रन देकर 9 विकेट झटक लिए. इसके साथ ही फेइरोजाम सिंह (Pheiroijam Singh) अपने पहले फर्स्ट क्लास मैच में एक पारी में 9 विकेट चटकाने वाले महज चौथे भारतीय और दुनिया के महज 10वें गेंदबाज बन गए हैं.

पढ़ें- Arjun Tendulkar ने पहले ही रणजी मैच में ऐसा क्या किया, जो लोग बोले- पापा सचिन तेंदुलकर याद आ गए

फेइरोजाम से पहले इन तीन भारतीयों ने किया ये कारनामा

फेइरोजाम से पहले भारतीय क्रिकेट के इतिहास में पहले रणजी मैच में तीन ही गेंदबाजों ने डेब्यू पारी में 9 विकेट चटकाए थे. साल 1956-57 में वसंत रंजने (Vasant Ranjane) ने महाराष्ट्र के लिए सौराष्ट्र के खिलाफ 35 रन देकर 9 विकेट, साल 1971-72 में अमरजीत सिंह (Amarjith Singh) ने 45 रन देकर 9 विकेट और तीन साल पहले 2019-20 में संजय यादव (Sanjay Yadav) ने 52 रन देकर 9 विकेट लेते हुए यह इतिहास अपने नाम किया था. 

पढ़ें- Rishabh Pant हैं टेस्ट क्रिकेट के सबसे विस्फोटक बल्लेबाज, अब टूटने वाला है बेन स्टोक्स का रिकॉर्ड

रिकॉर्ड बनाने वाले दुनिया के सबसे कम उम्र गेंदबाज हैं फेइरोजाम

16 साल के फेइरोजाम डेब्यू मैच में 9 विकेट चटकाने वाले दुनिया के सबसे कम उम्र गेंदबाज हैं. उनसे पहले यह रिकॉर्ड भारत के ही वसंत रंजने के नाम पर था, जिन्होंने 19 साल (7066 दिन) की उम्र में यह रिकॉर्ड बनाया था. इंग्लैंड की कैंब्रिज यूनिवर्सिटी के जेएच किरवान (JH Kirwan) ने भी 19 साल की उम्र में यह रिकॉर्ड बनाया था, लेकिन उस समय दिनों में उनकी उम्र 7091 दिन थी. 

पढ़ें- इंग्लैंड के घातक ऑलराउंडर का हुआ एक्सीडेंट, तुरंत ले जाया गया अस्पताल, जानें अब कैसी है हालत

10वें विकेट का कैच खुद पकड़ा वर्ना तोड़ देते 120 साल का रिकॉर्ड

फेइरोजाम ने पारी में 9 विकेट चटका लिए थे, तो सभी को उनकी गेंदों से 10वां विकेट भी उनके ही खाते में जाने का इंतजार था. फेइरोजाम ने खुद ही यह आशा तोड़ दी, जब उन्होंने अपने साथी गेंदबाज रेक्स राजकुमार (Rex Rajkumar) की गेंद पर अन्वेश शर्मा का कैच लपक लिया. यदि फेइरोजाम 10वां विकेट भी ले लेते तो वह डेब्यू पारी में 10 विकेट लेने वाले दुनिया के महज तीसरे गेंदबाज बनते. उनसे करीब 120 साल पहले यह कारनामा दो गेंदबाजों ने किया था. अल्बर्ट मूस (Albert Moss) ने साल 1889-90 में 28 रन देकर 10 विकेट, जबकि फिट्ज हिंड्स (Fitz Hinds) ने साल 1900-01 में 36 रन देकर 10 विकेट डेब्यू पारी में चटकाए थे. 

पढ़ें- Lionel Messi Retirement: इस तारीख को संन्यास लेने जा रहे हैं मेसी, जानें कहां खेलेंगे आखिरी मैच

इंफाल वेस्ट डिस्ट्रिक्ट के रहने वाले हैं फेइरोजाम

फेइरोजाम सिंह मणिपुर की इंफाल वेस्ट डिस्ट्रिक्ट की तहसील पातसोई (Patsoi) के गांव पातसोई लामखेई रहने वाले हैं. उनके पिता का नाम फेइरोजाम रोहिंद्रो सिंह (Pheiroijam Rohindro Singh) और मां का नाम फेइरोजाम बिद्यालक्ष्मी देवी (Pheiroijam Bidyalakshmi Devi) है. फेइरोजाम ने अपनी क्रिकेट की ट्रेनिंग पातसोई ताओमांग राइजिंग क्लब में ली है.

देश-दुनिया की ताज़ा खबरों Latest News पर अलग नज़रिया, अब हिंदी में Hindi News पढ़ने के लिए फ़ॉलो करें डीएनए हिंदी को गूगलफ़ेसबुकट्विटर और इंस्टाग्राम पर.

देश और दुनिया की ख़बर, ख़बर के पीछे का सच, सभी जानकारी लीजिए अपने वॉट्सऐप पर-  DNA को फॉलो कीजिए

Live tv