Twitter
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

Commonwealth Games 2022: निकहत-लवलीना को मिला आसान ड्रा, एक जीत से इस बॉक्सर का मेडल होगा पक्का

ओलंपिक पदक विजेता लवलीना बोरगोहेन अपने लाइट मिडिलवेट वर्ग में शनिवार को न्यूजीलैंड की अरियाने निकोलसन से मुक़ाबला करेंगी और पहला मुक़ाबला जीतकर वह क्वार्टरफाइनल में गोल्ड कोस्ट की रजत पदक विजेता वेल्स की रोसी एसेल्स के सामने रिंग में उतरेंगी.

article-main

भारतीय मुक्केबाज़

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

TRENDING NOW

डीएनए हिंदी: विश्व चैम्पियन निकहत जरीन और मौजूदा ओलंपिक कांस्य पदक विजेता लवलीना बोरगोहेन को राष्ट्रमंडल खेलों की महिला मुक्केबाज़ी स्पर्धा के लिए आसान ड्रा मिला है. निकहत महिलाओं की 48-50 किग्रा लाइट फ्लाईवेट वर्ग में अपना अभियान रविवार, 30 जुलाई को मोजांबिक की हेलेना इस्माइल बागाओ के खिलाफ शुरू करेंगी. अगर निकहत जीत जाती हैं, तो वो अगले प्रतिद्वंदी को भी आसानी से मात दे सकती हैं. क्वार्टरफाइनल में वो वेल्स की हेलेन जोंस के खिलाफ रिंग में उतरेंगी.

नितीश राणा से लेकर मनजोत कालरा तक, जानें किस वजह से BCCI ने इन खिलाड़ियों पर लगाया था बैन

वहीं लवलीना अपने लाइट मिडिलवेट (66-70 किग्रा) वर्ग में शनिवार को न्यूजीलैंड की अरियाने निकोलसन से मुक़ाबला करेंगी और पहला मुक़ाबला जीतकर वह क्वार्टरफाइनल में गोल्ड कोस्ट की रजत पदक विजेता वेल्स की रोसी एसेल्स के सामने होंगी. लाइटवेट (57-60 किग्रा) वर्ग में जैसमीन को पहले दौर में बाई मिली है, जिससे वह सीधे क्वार्टरफाइनल में ही रिंग में उतरेंगी. लेकिन इसमें उन्हें कड़ी चुनौती मिलेगी, जहां वह चार अगस्त को 2018 गोल्ड कोस्ट की कांस्य पदक विजेता न्यूजीलैंड की ट्रॉय गार्टन के सामने होंगी.

एक जीत से नीतू का पदक होगा सुनिश्चित

महिलाओं की (45-48 किग्रा) लाइट फ्लाईवेट वर्ग में नीतू को पदक सुनिश्चित करने के लिये महज एक जीत दर्ज करने की जरूरत है क्योंकि ड्रा में आठ ही मुक्केबाज शामिल हैं. वह तीन अगस्त को क्वार्टरफाइनल में नॉर्थ आयरलैंड की निकोल क्लाइड के सामने होंगी. पुरूषों के वर्ग में एशियाई खेलों के स्वर्ण पदक और 2018 राष्ट्रमंडल खेलों के रजत पदक विजेता अमित पंघल एक अगस्त को फ्लाईवेट (48-51 किग्रा) वर्ग में वनातु के नाम्री बेरी के खिलाफ अपना अभियान शुरू करेंगे.

क्या होता है फ्लैग बियरर, किस एथलीट को मिलता है ये सम्मान, जानें सब कुछ

वहीं पिछले राष्ट्रमंडल खेलों में कांस्य पदक जीतने वाले मोहम्मद हुसामुद्दीन अपने शुरूआती मुकाबले में 30 जुलाई को फेदरवेट (54-57 किग्रा) वर्ग में दक्षिण अफ्रीका के एम्जोलेले डाईयी से मुक़ाबला करेंगे. पूर्व एशियाई और विश्व चैम्पियनशिप पदक विजेता शिव थापा लाइट वेल्टरवेट (60-63.5 किग्रा) वर्ग में शुक्रवार को पाकिस्तान के सुलेमान बलूच से भिड़ेंगे जबकि वेल्टरवेट (63.5-67 किग्रा) मुक्केबाज रोहित टोकस को पहले दौर में बाई मिली है और वह दो अगस्त को दूसरे दौर में घाना के एल्फ्रेड कोटे के सामने होंगे.

सुमित और आशिष को मिली है बाई

सुमित को भी मिडिलवेट (71-75 किग्रा) वर्ग के पहले दौर में बाई मिली है और वह दूसरे दौर में रविवार को आस्ट्रेलिया के कैलम पीटर्स के सामने रिंग में उतरेंगे. पुरूषों के लाइट हेवीवेट (75-80 किग्रा) वर्ग में आशीष कुमार को भी पहले दौर में बाई मिली है. एक अगस्त को दूसरे दौर में उनका मुक़ाबला नियू के ट्रेविस टापाटुएटोआ से होगा. संजीत का सामना शनिवार को हेवीवेट वर्ग के शुरूआती मुकाबले में एटो लियू पलोडजिकी फाओगाली से होगा, जबकि सागर रविवार को सुपर हेवीवेट (92 किग्रा से अधिक) वर्ग के पहले दौर में मैक्सीम येगनोंग निजियो से भिड़ेंगे.

देश-दुनिया की ताज़ा खबरों Latest News पर अलग नज़रिया, अब हिंदी में Hindi News पढ़ने के लिए फ़ॉलो करें डीएनए हिंदी को गूगलफ़ेसबुकट्विटर और इंस्टाग्राम पर.

देश और दुनिया की ख़बर, ख़बर के पीछे का सच, सभी जानकारी लीजिए अपने वॉट्सऐप पर-  DNA को फॉलो कीजिए

Live tv