Twitter
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

अब मैच के दौरान कप्तान बदल सकेंगे अपनी प्लेइंग 11, आ रहा है नया नियम, जानें पूरी डिटेल

Impact Player Rule: BCCI क्रिकेट में भी सब्स्टिट्यूट नियम लाने की तैयारी में है. नियम के अनुसार सब्स्टिट्यूट खिलाड़ी बैटिंग या बॉलिंग कर सकेगा.

article-main

BCCI on Impact Player Rule

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

TRENDING NOW

डीएनए हिंदी: लगातार क्रिकेट की बढ़ रही लोकप्रीयता और खेल के प्रति फैंस के लगाव को बनाए रखने के लिए इसके नियमों में तरह तरह के बदलाव होते रहे हैं. क्रिकेट में जल्द ही एक और नया नियम आने वाला है. जिसके तहत प्लेइंग 11 में भी बदलाव किया जा सकता है. इससे पहले आपने कबड्डी, फुटबॉल, हॉकी में ये नियम देखे होंगे. कहने का मतलब ये है कि अब क्रिकेट में भी स्टार्टिंग 11 होगी न की प्लेइंग 11. वर्तमान नियम के अनुसार क्रिकेट में फील्डिंग के दौरान चोटिल खिलाड़ी की जगह सब्स्टीट्यूट खिलाड़ी प्लेइंग 11 में शामिल हो सकता है लेकिन वह बैटिंग या बॉलिंग नहीं कर सकता. अब BCCI के नए नियम के अनुसार टीमें बीच मैच के दौरान प्लेइंग 11 में बदलाव कर पाएंगी.

कब से लागू होगा इम्पेक्ट प्लेयर का नियम?

11 अक्टूबर से शुरू होने वाली सैयद मुश्ताक अली T20 टूर्नामेंट BCCI में नया नियम लेकर आने की तैयारी में है. इस नियम को इंपैक्ट प्लेयर (Impact Player Rule) का नाम दिया गया है. माना जा रहा है कि इंडियन प्रीमियर लीग 2023 में भी इस नियम को लागू किया जाएगा. नए नियम के अनुसार टीमें मैच के दौरान अपने प्लेइंग इलेवन में बदलाव कर सकती हैं. इससे पहले ऐसा कबड्डी, फुटबॉल, हॉकी और बास्केटबॉल जैसे खेलों में ही होता रहा है. इस नियम की आदत पहले से हो जाए इसलिए बोर्ड राज्यस्तरीय क्रिकट के साथ इस नियम की शुरुआत करना चाहता है. 

Ind vs Aus T20 Series दिलाएगी इस घातक गेंदबाज को T20 WC में जगह, जानें कैसे?

हालांकि इस नियम के अनुसार टॉस के समय ही टीमों को प्लेइंग इलेवन के साथ 4 सब्स्टीट्यूट बताने होंगे. हालांकि इसमें से सिर्फ एक खिलाड़ी को ही इंपैक्ट प्लेयर के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है.” हालांकि इंपैक्ट प्लेयर का इस्तेमाल अनिवार्य नहीं होगा. कप्तान जरूरत के हिसाब से इसका प्रयोग कर सकते हैं. नियम के अनुसार इंपैक्ट प्लेयर को किसी भी पारी के 14वें ओवर के पूरा होने से पहले किसी भी समय इस्तेमाल किया जा सकता है. 14 ओवर के बाद उसका इस्तेमाल नहीं होगा. इंपैक्ट प्लेयर जिस खिलाड़ी की जगह लेगा वह आगे बचे हुए मैच में नहीं खेल सकेगा. उसे सब्स्टीट्यूट फील्डर भी नहीं बनाया जा सकेगा.

देश-दुनिया की ताज़ा खबरों Latest News पर अलग नज़रिया, अब हिंदी में Hindi News पढ़ने के लिए फ़ॉलो करें डीएनए हिंदी को गूगलफ़ेसबुकट्विटर और इंस्टाग्राम पर.

देश और दुनिया की ख़बर, ख़बर के पीछे का सच, सभी जानकारी लीजिए अपने वॉट्सऐप पर-  DNA को फॉलो कीजिए

Live tv