Twitter
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

Tulsi ke Upay: घर में तुलसी के साथ लगाएं ये 2 पौधे, मां लक्ष्मी की जमकर बरसेगी कृपा

Tulsi ke Upay : धर्म में तुलसी को विष्णु प्रिया वृंदा का विशेष विशेष स्थान हासिल है. इसके साथ स्वास्थ्य के लिहाज से भी यह बेहद महत्वपूर्ण माना जाता है. इस पौधे में बहुत सारे आयुर्वेदिक गुण होते हैं जो हमें कई बीमारियों से बचाते हैं.

article-main

Tulsi plant dos and donts

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

TRENDING NOW

डीएनए हिंदी : भारतीय संस्कृति में तुलसी (Tulsi ke Upay) का बेहद महत्व है. इसे धर्म के हिसाब से सबसे जरूरी और पवित्र पौधा माना जाता है. यह समझा जाता है कि तुलसी के इस पौधे में साक्षात मां लक्ष्मी (Maa Lakshmi)  निवास करती हैं.  इस वजह से इस पौधे की ठीक उस तरह ही देखभाल की जाती है जिस तरह बच्चे का घर में ख़याल रखा जाता है.  शायद ही कोई ऐसा हिंदू घर होगा जिस जगह तुलसी का पौधा न रखा गया हो. मान्यता के अनुसार चूंकि तुलसी में मां लक्ष्मी निवास करती हैं, इस वजह से जिस घर में तुलसी का पौधा हो वहां धन-धान्य की कोई कमी नहीं होती है.  
धर्म ही नहीं स्वास्थ्य के लिए भी ज़रूरी है तुलसी 
धर्म में तुलसी को विष्णु प्रिया वृंदा का विशेष विशेष स्थान हासिल है. इसके साथ स्वास्थ्य के लिहाज से भी यह बेहद महत्वपूर्ण माना जाता है. इस पौधे में बहुत सारे आयुर्वेदिक गुण होते हैं जो हमें कई बीमारियों से बचाते हैं. हिंदू धर्म ग्रंथों के मुताबिक तुलसी के साथ कुछ और बेहद खास पौधे लगा दिए जाएं तो तुलसी और उस पौधे दोनों की शक्ति दोगुनी हो जाती है. यह मां लक्ष्मी को बेहद प्रसन्न करता है. वे अधिक कृपा बरसाने लगती हैं और साथ में भगवान विष्णु भी खूब प्रसन्न हो जाते हैं. 

Tulsi के साथ लगाएं भगवान शंकर का प्रिय धतूरा 

भगवान शंकर का प्रिय धतूरे का पौधा होता है. यह पौधा भगवान शंकर को काफ़ी प्रिय होता है. इसमें काले धतूरे से उन्हें और भी अनुराग है. लगभग सारे शिवमंदिरों में यह पौधा आप आसानी से देख सकते हैं. इस पौधे को अगर तुलसी के पौधे(Tulsi Plant) के साथ लगा दिया जाए तो लक्ष्मी के साथ विष्णु और शिव का आशीर्वाद भी मिलेगा. 

तुलसी के साथ शमी का पौधा करता है शनिदेव को ख़ुश 

 शमी के पौधे(Shami Plant) को शनि देव से सम्बंधित माना जाता है. माना जाता है कि घर में शमी का पौधा तुलसी के पौधे के साथ लगा देने से शनि देव प्रसन्न रहते हैं. इसकी वजह से व्यापार-नौकरी से जुड़ी तमाम दिक्कतें अपने आप खत्म हो जाती हैं.  हमारेअटके हुए काम भी पूरे होने लगते हैं. साथ ही इन दोनों पौधों से पितृ दोष भी दूर होता है. कहा जाता है कि जल में दूध मिलाकर तुलसी, शमी और काले धतूरे को अर्पित करने पर पितृ दोष दूर हो जाते हैं. यह सफलता भी देता है. 

 बुरी नजर से बचने के लिए अपनाएं यह उपाय

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. डीएनए हिंदी इसकी पुष्टि नहीं करता है.) 

देश-दुनिया की ताज़ा खबरों पर अलग नज़रिया, फ़ॉलो करें डीएनए हिंदी को गूगलफ़ेसबुकट्विटर और इंस्टाग्राम पर.

देश और दुनिया की ख़बर, ख़बर के पीछे का सच, सभी जानकारी लीजिए अपने वॉट्सऐप पर-  DNA को फॉलो कीजिए

Live tv

पसंदीदा वीडियो