Twitter
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

UGC NET Exam 2022: इन कारणों से हो रही है एडमिट कार्ड और परीक्षा आयोजित करने में देरी

UGC NET 2022 Admit Card and Exam Date: अभ्यर्थी बेसब्री से कर रहे हैं एडमिट कार्ड का इंतेजार. जानिए क्यों हो रहा है एडमिट कार्ड जारी करने में देरी.

article-main

Image Credit - Zee News

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

TRENDING NOW

डीएनए हिंदीः यूजीसी नेट  (UGC NET 2022)के लिए आवेदन करने वाले अभ्यर्थी काफी लंबे समय से यूजीसी नेट परीक्षा का इंतजार है कर रहे हैं. विश्वविद्यालय अनुदान आयोग राष्ट्रीय पात्रता परिक्षा आयोजित करने के लिए तारिखों की घोषणा जल्द करने वाला है. तारिखों की घोषणा होने के बाद नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) यूजीसी नेट 2022 परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड भी जारी कर देगी. अभ्यर्थी विश्वविद्यालय अनुदान आयोग की अधिकारिक वेबसाइट ugcnet.nta.nic.in पर जाकर अपने एडमिट कार्ड डाउनलोड कर सकेंगे. आपको बता दें कि विश्वविद्यालय अनुदान आयोग द्वारा आयोजित की जाने वाली राष्ट्रीय पात्रता परिक्षा विश्वविद्यालयों में असिस्टेंट प्रोफेसर भर्ती व जूनियर रिसर्च फेलो की पात्रता हासिल करने के लिए दी जाती है. इस साल इस परिक्षा के आयोजन में कई कारणों से देरी हो रही है. जानकारी के मुताबिक नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) एडमिट कार्ड जारी करने से पहले इंफ्रोर्मेशन स्लिप जारी करेगा.

इन कारणों से हो रही है परीक्षा में देरी

जानकारी के अनुसार कई ऐसे कारण हैं जिनके कारण यूजीसी नेट परीक्षा आयोजित करने में देरी हो रही है. बता दें कि नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) जोकि विश्वविद्यालय अनुदान आयोग राष्ट्रीय पात्रता परिक्षा आयोजित करने के लिए उत्तरदायी है, उसके जिम्मे कई अन्य परीक्षाओं को भी कराने की जिम्मेदारी है. जिसके चलते यूजीसी नेट परीक्षा में देरी हो रही है. इसके अलावा यूजीसी नेट परीक्षा के लिए देर तक रजिस्ट्रेशन विंडो भी खुली रही थी, आवेदनकर्ताओं को पर परीक्षा फॉर्म में सुधार करने के लिए 1 जून तक का समय दिया गया था, जिसके कारण भी यूजीसी नेट परीक्षा को कराने में देरी हो रही है.

1. जून में होनी थीं कई अन्य बड़ी परीक्षाएं

यूजीसी नेट परीक्षा में देरी का मुख्य कारण नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) की ओर से आयोजित होने वाली जेईई मेन 2022 परीक्षा भी है जिसका पहला चरण जोकि जून 2022 के अंतिम सप्ताह में निर्धारित है और दूसरा चरण जोकि जुलाई 2022 में निर्धारित है. इसके अलावा नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) की ओर से ही मेडिकल दाखिलों के लिए नीट यूजी परीक्षा का आयोजन भी 17 जुलाई में होना है. वहीं नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) के लिए CUCET (स्नातक वर्ग में प्रवेश के लिए आयोजित होने वाली परीक्षा) को कराना भी जरूरी है. इससे पहले 5 जून को UPSE और उसके एक सप्ताह बाद ही UPPSE की परीक्षा को भी NTA ने ही आयोजित किया था. 19 जून को भी NTA ने MPPSE की परीक्षा को भी संपन्न कराया था. इन सभी बड़ी परीक्षाओं के चलते यूजीसी नेट परिक्षा 2022 के आयोजन में देरी हो रही है.

2. पिछले साल दिसंबर में आयोजित नहीं हुई थी यूजीसी नेट परिक्षा (UGC NET Exam)

इस बार नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) पर यूजीसी नेट दिसंबर 2021 और यूजीसी नेट जून 2022 की परीक्षा एक साथ आयोजित करने की जिम्मेदारी है. बता दें कि विश्वविद्यालय अनुदान आयोग साल में दो बार यूजीसी नेट परीक्षा को कराता है, लेकिन पिछले साल दिसंबर में कोरोना महामारी के कारण यूजीसी नेट दिसंबर 2021 परीक्षा को स्थगित करना पड़ा था. जिसके चलते यूजीसी नेट दिसंबर 2021 और यूजीसी नेट जून 2022 सत्र की परीक्षा को एक साथ कराया जाएगा, इसी वजह से परीक्षा कराने में भी काफी देरी हो रही है.

3. यूजीसी नेट परीक्षा (UGC NET Exam) के लिए यूजीसी ने दोगुने किये परीक्षा केंद्र

इस बार विश्वविद्यालय अनुदान आयोग ने यूजीसी नेट परीक्षा के लिए के परीक्षा केंद्रों की संख्या में भारी इजाफा किया है. विश्वविद्यालय अनुदान आयोग ने परीक्षा केंद्रों की संख्या पिछले बार से दोगुने से भी अधिक करते हुए 541 कर दी है. ऐसा फैसला कोविड महामारी से सुरक्षा को देखते हुए लिया गया है.

4. यूजीसी नेट में एक नया सब्जेक्ट हिंदू स्टडीज जोड़ा गया है

यूजीसी नेट की परीक्षा में अब तक 81 सबजेक्ट्स होते थे. लेकिन इस बार विश्वविद्यालय अनुदान आयोग यानि UGC ने यूजीसी नेट-2022 परीक्षा में एक और सब्जेक्ट को जोड़ा है. जानकारी के मुताबिक सब्जेक्ट लिस्ट में एक नया सब्जेक्ट 'हिंदू स्टडीज' सब्जेक्ट कोड-102 को जोड़ा गया है. 

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) पर कई अन्य परीक्षाओं का था जिम्मा जिसके चलते यूजीसी नेट-2022 परीक्षा को आयोजित करने में हो रही है देरी. इसके अलावा परीक्षा केंद्रों को बढ़ाने और नए सब्जेक्ट जोड़ने के कारण भी परीक्षा को अभी तक रोका गया. परीक्षा के देरी से आयोजित होने में मुख्य रूप से नेट दिसंबर 2021 और नेट जून 2022 दोनों को एक साथ आयोजित करना भी NTA के लिए बड़ा चेलेंज है.  

 

देश और दुनिया की ख़बर, ख़बर के पीछे का सच, सभी जानकारी लीजिए अपने वॉट्सऐप पर-  DNA को फॉलो कीजिए

Live tv