Twitter
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

भारी बर्फबारी के बीच भी जारी है Zojila Tunnel का निर्माण, पांच किलोमीटर सुरंग बनकर तैयार

MEIL और NHDICL की यह परियोजना पूरी होने के बाद श्रीनगर और लद्दाख के बीच पूरे वर्ष बिना किसी रुकावट के कनेक्टिविटी को सुनिश्चित करेगी.

article-main
FacebookTwitterWhatsappLinkedin

TRENDING NOW

डीएनए हिंदी: जम्मू-कश्मीर से लद्दाख के बीच बन रही जोजिला टनल (Zojila Tunnel) का काम भारी बर्फबारी के बीच भी जारी है. इसी क्रम में 18 किलोमीटर में से पांच किलोमीटर लंबी सुरंग बनाने का काम पूरा कर लिया गया है. 

इस बीच सुरंग का निर्माण करने वाली कंपनी मेघा इंजीनियरिंग एंड इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड (MEIL) ने कहा कि उसने 14 महीने के रिकॉर्ड समय में ही 18 किलोमीटर की ऑल वेदर जोजिला टनल में 5 किमी तक सुरंग का निर्माण कर दिया है. वहीं एनएचडीआईसीएल (National Highways and Infrastructure Development Corporation Ltd) कारगिल के महाप्रबंधक कर्नल शिव कुमार ने जानकारी देते हुए बताया, मीणा मार्ग और बालटाल दोनों तरफ से एक साथ खुदाई चल रही है. सुरंग स्थल पर सेटअप स्थापित होने से काम करने की स्थिति भी आसान हो गई है. ऐसे में अब बर्फबारी और खराब मौसम होने पर भी निर्माण कार्य प्रभावित नहीं होगा. 

ये भी पढ़ें- Police File: कानपुर के घर में घुस रहे थे चोर, मालिक ने America से CCTV फुटेज देख बुला ली पुलिस

उन्होंने आगे कहा कि इस प्रोजेक्ट में काम करने वाली टीम का मनोबल भी काफी बढ़ा हुआ है. वह देश के लिए सबसे कठिन परिस्थितियों में काम कर रहे हैं.

बता दें कि सुरंग की ड्रिलिंग के लिए न्यू ऑस्ट्रियन टनलिंग पद्धति का उपयोग किया जा रहा है. साइट पर मौजूद इंजीनियरों का कहना है कि बाहर खराब मौसम की वजह से हम मशीनों को सुरंग के अंदर ही पार्क करते हैं. इससे सुरंग के बाहर कम तापमान होने के बावजूद हम सुचारू रूप से काम कर पाते हैं. 

MEIL और NHDICL की यह परियोजना पूरी होने के बाद श्रीनगर और लद्दाख के बीच पूरे वर्ष बिना किसी रुकावट के कनेक्टिविटी को सुनिश्चित करेगी. जोजिला टनल को बनाने में स्टेट ऑफ आर्ट तकनीक का उपयोग किया गया है. सुरंग हीट डिटेक्शन सिस्टम, सीसीटीवी, एलईडी स्क्रीन और लाइटिंग जैसी सुविधाओं से लैस होगी. यह टनल समुद्र तल से 11 हजार वर्ग मीटर से ज्यादा की ऊंचाई पर बनने वाली एशिया की सबसे लंबी सुरंग है. फिलहाल सिंगल ट्यूब है जिसे डबल करने की योजना है. 

ये भी पढ़ें- DNA एक्सप्लेनर: क्या है Antrix-Devas Deal जिसे लेकर Congress को घेर रही है BJP? जानें सब कुछ

वहीं इस प्रोजेक्ट को 2026 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है, हालांकि टनल का निरीक्षण करने पहुंचे परिवहन मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने दावा किया कि साल 2024 में होने वाले लोक सभा चुनाव के पहले यह टनल तैयार कर ली जाएगी.

(इनपुट- खालिद हुसैन)

देश और दुनिया की ख़बर, ख़बर के पीछे का सच, सभी जानकारी लीजिए अपने वॉट्सऐप पर-  DNA को फॉलो कीजिए

Live tv

पसंदीदा वीडियो