Twitter
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

Congress Chintan Shivir: क्यों सिमट गई कांग्रेस की राजनीति? BJP नेता ने दिया जवाब

राजस्थान बीजेपी के अध्यक्ष सतीश पूनिया ने कहा है कि कांग्रेस पार्टी परिवारवाद से आगे नहीं सोच पाती है.

article-main

कांग्रेस चिंतन शिविर में सोनिया गांधी का स्वागत करते पार्टी के वरिष्ठ नेता. (फोटो- Twitter/Congress)

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

TRENDING NOW

डीएनए हिंदी: कांग्रेस (Congress) ने राजस्थान के उदयपुर में तीन दिवसीय चिंतन शिविर (Chintal Shivir)  आयोजित की है. लगातार मिल रही हार के बाद कांग्रेस की यह बैठक कई मायनों में बेहद खास है. भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने कांग्रेस के चिंतन शिविर पर एक बार फिर तंज सकता है.

राजस्थान बीजेपी यूनिट के अध्यक्ष डॉक्टर सतीश पूनिया (Satish Poonia) ने शुक्रवार को कहा कि कांग्रेस में राजनीति सिर्फ एक परिवार के इर्द-गिर्द तक सीमित है. उन्होंने आरोप लगाया कि तुष्टिकरण एवं भ्रष्टाचार की वजह से कांग्रेस पार्टी का ग्राफ पूरे देश में गिर रहा है. 

सतीश पूनिया ने यह भी दावा किया कि अगले साल राजस्थान और छत्तीगढ़ में होने वाले विधानसभा चुनावों में कांग्रेस को हार का मुंह देखना पड़ेगा. उन्होंने उदयपुर में चल रहे कांग्रेस के चिंतन शिविर पर यह कहा है.

Congress में फिर आएगा 'राहुल युग'! चिंतिन शिविर में हो सकते हैं ये बड़े फैसले

'पूरी कांग्रेस गांधी परिवार के आगे नतमस्तक'

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को घेरते हुए सतीश पूनिया ने कहा कि चिंतन शिविर में अशोक गहलोत ने वही रटी-रटाई बातें कहीं, जिनसे गांधी परिवार खुश होता है. सतीश पूनिया ने दावा किया कि कांग्रेस में परिवारवाद इस कदर हावी है कि पूरी कांग्रेस गांधी परिवार के सामने नतमस्तक है.

'परिवारवाद के आगे नहीं है कांग्रेस की कोई सोच'

सतीश पूनिया (Sathish Puniya) ने कहा, 'परिवारवाद से आगे कांग्रेस की कोई सोच नहीं है, ना कोई दृष्टिकोण है. कांग्रेस सिर्फ परिवारवाद की राजनीति के इर्द-गिर्द ही सिमट गई है.'

'सोनिया को नहीं दिखते बहुसंख्यकों पर अत्याचार'

बीजेपी ने कहा कि कांग्रेस के चिंतन शिवर में सोनिया गांधी कह रही हैं कि अल्पसंख्यकों के तुष्टिकरण की राजनीति हो रही है. उन्होंने पूछा, 'क्या सोनिया गांधी को यह पता नहीं है कि कांग्रेस सरकार के शासन में करौली, जोधपुर, भीलवाड़ा, भरतपुर और नोहर में हिंसा भड़की और कोटा में पीएफआई की रैली को इजाजत किसने दी?'

Rahul Gandhi बनाएंगे नया गुजरात, आदिवासी सत्याग्रह रैली में भरी हुंकार!

सतीश पूनिया ने कहा कि क्या सोनिया गांधी को प्रदेश में बहुसंख्यकों पर अत्याचार नहीं दिखते? उन्होंने दावा किया कि इन क्षेत्रों में हिंसा पीड़ितों से मिलने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत आज तक नहीं गए और हिंसा करने वाले लोगों पर भी कोई कार्रवाई नहीं की गई. 

'पत्रकारों पर झूठे मुकदमे करा रही गहलोत सरकार'

सतीश पूनिया ने कहा कि सोनिया गांधी को गहलोत को किसानों की कर्जमाफी का वादा पूरा करने का निर्देश देना चाहिए. उन्होंने आरोप लगाया कि प्रदेश में कांग्रेस के शासन में जनहित के मुद्दों की आवाज उठाने वाले पत्रकारों व भाजपा नेताओं के खिलाफ षड्यंत्र करके झूठे मुकदमे दर्ज करवाए जा रहे हैं. (भाषा इनपुट के साथ)

गूगल पर हमारे पेज को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें. हमसे जुड़ने के लिए हमारे फेसबुक पेज पर आएं और डीएनए हिंदी को ट्विटर पर फॉलो करें.

देश और दुनिया की ख़बर, ख़बर के पीछे का सच, सभी जानकारी लीजिए अपने वॉट्सऐप पर-  DNA को फॉलो कीजिए

Live tv