Twitter
Advertisement
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

संदेशखाली विवाद के बीच BJP नेता पर लगा सेक्स रैकेट चलाने का आरोप, 11 लोग गिरफ्तार

West Bengal News: बंगाल के हावड़ जिले में बीजेपी नेता की गिरफ्तारी उस समय हुई है जब संदेशखाली महिलाओं से यौन उत्पीड़न को लेकर बवाल मचा हुआ है. बीेजपी-टीएमसी इस मुद्दे पर दोनों आमने सामने हैं.

Latest News
article-main

BJP leader Sabyasachi Ghosh

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

पश्चिम बंगाल के हावड़ा जिले में भारतीय जनता पार्टी (BJP) नेता सब्यसाची घोष को गिरफ्तार किया गया है. उन पर हावड़ा एक होटल में देह व्यापार रैकेट चलाने का आरोप है. यह गिरफ्तारी ऐसे समय हुई है जब संदेशखाली (Sandeshkhali Row) में महिलाओं के साथ यौन उत्पीड़न को लेकर बीजेपी, सत्तारूढ़ टीएमसी सरकार पर हमलावर है.  बीजेपी नेता इस मामले में TMC नेता शाहजहां शेख और उनके साथियों को गिरफ्तार करने की मांग कर रहे हैं.

पुलिस अधिकारी ने बताया कि स्थानीय बीजेपी नेता सब्यसाची घोष और उनके 10 सहयोगियों को गुरुवार शाम को संकरेल इलाके के एक होटल पर छापेमारी के बाद गिरफ्तार किया गया. संदेशखाली में अपने नेताओं द्वारा महिलाओं के कथित यौन उत्पीड़न के आरोपों का सामना कर रही टीएमसी ने बीजेपी को उसके नेता की देह व्यापार में गिराफ्तारी को लेकर आड़े हाथ लिया.

गिरफ्तार लोगों में 6 महिलाएं भी शामिल
तृणमूल कांग्रेस ने सोशल मीडिया मंच X पर पोस्ट किया, ‘बीजेपी नेता सब्यसाची घोष नाबालिग लड़कियों से हावड़ा के संकरेल इलाके के होटल से देह व्यापार कराते हुए पकड़े गए हैं. पुलिस ने 11 आरोपियों और 6 पीड़िताओं को मौके से पकड़ा है. यह भाजपा है. वे बेटी की रक्षा नहीं करते, वे दलालों की रक्षा करते हैं.' 

 

बंगाल पहुंची NHRC की टीम
वहीं, राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC) की एक टीम शुक्रवार को पश्चिम बंगाल के संदेशखाली पहुंची और महिलाओं के यौन उत्पीड़न के आरोपों के बारे में तथ्य जुटाने के लिए ग्रामीणों से बात की. उत्तर 24 परगना जिले के संदेशखाली में महिलाओं ने तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के नेता शाहजहां शेख और उनके समर्थकों पर जमीन हड़पने व यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया है.


ये भी पढ़ें- वाराणसी के दलित समीकरण को कैसे सुलझा रहे पीएम मोदी? समझिए गणित


NHRC की टीम संदेशखाली में कुछ इलाकों में गई और ग्रामीणों से बात कर उनके बयान दर्ज किए. एनएचआरसी ने पहले एक बयान में कहा था कि टीम का नेतृत्व आयोग का एक सदस्य करेगा और अधिकारी उसकी मदद करेंगे. टीम नाव से कालागाछी नदी पार करने के बाद धमाखालि नौका घाट से होते हुए संदेशखालि पहुंची. एनएचआरसी ने मीडिया को बताया कि संदेशखाली में गरीब महिलाओं को कथित तौर पर परेशान किया गया और उनका यौन उत्पीड़न किया गया. हमने पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव और पुलिस महानिदेशक को नोटिस जारी कर इस संबंध में चार सप्ताह में रिपोर्ट देने के लिए कहा है.

देश-दुनिया की ताज़ा खबरों Latest News पर अलग नज़रिया, अब हिंदी में Hindi News पढ़ने के लिए फ़ॉलो करें डीएनए हिंदी को गूगलफ़ेसबुकट्विटर और इंस्टाग्राम पर.

Advertisement

Live tv

Advertisement
Advertisement