Twitter
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

Aftab Narco Test: आज से शुरू होगा आफताब के नार्को टेस्ट का काउंटडाउन, जानिए पूरी प्रक्रिया

Narco Test Kya Hota Hai: डॉक्टर दीपा वर्मा ने बताया कि नार्को टेस्ट कराने का एक प्रोसेस होता है. यह 5 दिन में करवाना स्वभाविक रूप से संभव नहीं है.

article-main

आफताब ने श्रद्धा की लाश को कई टुकड़ों में काट दिया था. हत्या के बाद उसके रूम पर एक लड़की आई थी.

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

TRENDING NOW

डीएनए हिंदी: श्रद्धा मर्डर केस ने पूरे भारत को हैरान कर दिए है. कोर्ट के ऑर्डर अब सभी लोग चाहते हैं कि जल्द से जल्द आफताब का नार्को टेस्ट हो और सच सामने आए. कोर्ट के ऑर्डर के बाद आज से आफताब के नार्को टेस्ट का काउंटडाउन शुरू हो जाएगा. नार्को टेस्ट करने वाले एक्सपर्ट्स आज आफताब की पर्सनेलिटी का टेस्ट करेंगे. किसी भी व्यक्ति का नार्को टेस्ट एक दिन में नहीं किया जा सकता है इसलिए अभी आफताब के नार्को टेस्ट के लिए इंतजार करना पड़ेगा.

देश की राजधानी नई दिल्ली स्थित FSL (फोरेंसिक साइंस लेब्रोरेटरी) की डायरेक्टर डॉक्टर दीपा वर्मा के मुताबिक, कोर्ट ने ऑर्डर दिया है कि 5 दिन में नार्को टेस्ट कराना है. उन्होंने बताया कि नार्को टेस्ट कराने का एक प्रोसेस होता है. नार्को टेस्ट 5 दिन में करवाना स्वभाविक रूप से तो संभव नहीं है. हालांकि उन्होंने बताया कि लेकिन इंवेस्टिग्वेशन रिक्वेस्ट जो है वो पांच दिन में दे जाएगी. उसके बाद वो टेकअप हो जाएगा, टेकअप होना ही कॉंप्लेक्स टाइप एक्सरसाइज होती है क्योंकि मल्टीपल टेस्ट होते है. 

पढ़ें- लव रिवेंज: टुकड़ों में काटी लाश, एक कत्ल के कई गुनहगार, एनकाउंटर में गिरफ्तार 'प्रेमी'

उन्होंने बताया कि क्योंकि कोर्ट ने निर्देश दिए हैं इसलिए नार्को टेस्ट की शुरुआता हो सकती है लेकिन 5 दिनों में यह प्रक्रिया पूरी कर ली जाए यह संभव नहीं है. डॉक्टर दीपा वर्मा ने बताया कि नार्को टेस्ट के लिए एक मल्टीपल डिसिपलनरी टीम तैयार की जाती है, जिसमे मेडिकल बैकग्राउंड एक्सपर्ट्स रहते है, एनेथिसियन्स रहते है, साइक्लोजिस्ट रहते है.

पढ़ें- सूखेगा तालाब तभी खुलेंगे श्रद्धा मर्डर केस के राज? आफताब के दावे का सच खंगाल रही पुलिस

डॉक्टर दीपा वर्मा ने बताया कि इससे पहले आरोपी की मेडिकल फिटनेस चैक करनी होती है. केस की डिटेल्स चाहिए होती हैं उसी से तो साइक्लोजिस्ट सवाल तैयार करते है, कई टेस्ट होते है. उन्होंने कहा कि क्योंकि कोर्ट के डायरेक्शन है 5 दिन में नार्को टेस्ट करने के हैं तो कम्प्लाइज कर लिया जाएगा लेकिन कन्क्लूड नही हो सकता.

पढ़ें- कहां हैं आफताब के परिजन, क्या पहले से पता था श्रद्धा की हत्या का राज?

उन्होंने कहा कि इस प्रक्रिया के तहत बहुत सारे टेस्ट होते है. असल में जब इंटरेक्शन होगा सब्जेक्ट के साथ, तब पता लगेगा उसपर कौन-कौन से टेस्ट करने हैं, बेसिक जैसे पॉलीग्राफ भी हो सकता है, ब्रेन मैपिंग भी हो सकता है, कैसे किया जाना है कब किया जाना है कितने दिन बाद किया जाना है ये सब्जेक्ट की स्टेब्लिटी के हिसाब से होता है.

देश-दुनिया की ताज़ा खबरों Latest News पर अलग नज़रिया, अब हिंदी में Hindi News पढ़ने के लिए फ़ॉलो करें डीएनए हिंदी को गूगलफ़ेसबुकट्विटर और इंस्टाग्राम पर. 

देश और दुनिया की ख़बर, ख़बर के पीछे का सच, सभी जानकारी लीजिए अपने वॉट्सऐप पर-  DNA को फॉलो कीजिए

Live tv