Twitter
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

Low BP Control: अगर एकदम से लो हो जाए बीपी, आंवले के जूस से तुरंत करें कंट्रोल, ये चीज़ें भी हैं असरदार

Home Remedies for Low bp- अगर एकदम से आपका बीपी लो (BP Low) हो जाता है तो आप तुरंत उसे कंट्रोल करके सही कर सकते हैं. कैफीन, आंवला जूस, अदरक,गाजर, तुलसी इनके सेवन से बीपी कंट्रोल में आ जाता है, जानिए और क्या Home Remedies का इस्तेमाल हो सकता है

article-main
FacebookTwitterWhatsappLinkedin

TRENDING NOW

डीएनए हिंदी: Home Remedies to control low BP- भागदौड़ भरी जिंदगी में कोई अपनी सेहत का खयाल नहीं रख पाते हैं, इसलिए लो बीपी की समस्या बहुत आम होती जा रही है. लो बीपी (Low Blood Pressure problem) से आपको कई तरह की और बीमारियां घेर लेती हैं. लो बीपी का मतलब है कि हृदय, मस्तिष्क और शरीर के अन्य भागों में पर्याप्त रक्त नहीं पहुंच पाता. आज हम आपको लो बीपी होने से कैसे उसे कंट्रोल करें (Control Low BP) इसके घरेलू उपाय बताएंगे. 

वैसे तो आदर्श रूप से रक्तचाप,120/80 (सिस्टोलिक/डायस्टोलिक) से कम होना चाहिए,सिस्टोलिक के लिए 90 मिलीमीटर एचजी से कम और डायस्टोलिक के लिए 60 मिलीमीटर एचजी से कम को लो बीपी माना जाता है. वैसे तो बीपी लो होने के कोई खास लक्षण नहीं दिखाई देते हैं लेकिन चक्कर आना और बेहोशी दोनों लो बीपी के (Low Bp Symptoms in Hindi) मुख्य लक्षण हैं

यह भी पढ़ें- बासी रोटी खाने से बीपी रहता है कंट्रोल, जानिए कैसे खाएं 

Low BP के कारण (Causes of Low BP in Hindi)

शरीर में खून की कमी निम्न रक्तचाप का कारण बनती है. किसी बड़ी चोट के कारण अंदरूनी रक्तस्राव के वजह से शरीर में अचानक खून की कमी हो जाती है जिससे रक्तचाप निम्न हो जाता है.

कमजोरी व पोषण की कमी (Weakness)

पोषण की कमी और कमजोरी निम्न रक्तचाप का एक बढ़ा कारण होता है, जरूरी पोषक तत्वों की कमी होने पर शरीर पर्याप्त मात्रा में लाल रक्त कोशिकाएं नहीं बना पाती जिससे रक्तचाप निम्न हो जाता है

हृदय रोग (Heart Problem)

हृदय से जुड़ी किसी भी प्रकार की समस्या होने पर रक्तचाप निम्न हो सकता है, इसलिए इस दौरान आपको विशेष सावधानी बरतने की जरुरत होती है

पानी की कमी (Water deficiency)
 
शरीर में पानी की कमी से आप कई बार कमजोरी महसूस करते हैं,पानी की कमी से सिर्फ लो ब्लडप्रेशर ही नहीं, स्वास्थ्य से जुड़ी अन्य समस्याएं भी होती हैं जिसमें बुखार,उल्टी,डायरिया आदि शामिल हैं

दवाइयां (Medicines)

हाई ब्लड प्रेशर की दवा लेने, हार्ट प्रॉब्लम्स, पार्किंसन्स डिसीज, डिप्रेशन की गोलियां या पेनकिलर दवाइयां ज्यादा लेने से भी बीपी लो हो सकता है

डिहाइड्रेशन (Dehydration)

शरीर में पानी की कमी से डीहाइड्रेशन की समस्या होती है और उससे भी बीपी लो जाता है. 

एसिडिटी (Acidity)

एसिडिटी की वजह से भी ब्लड प्रेशर लो होता है क्योंकि जब हमारे अमाशय के अंदर एसिडिटी उत्पन्न होती है जिसकी वजह से हमारी नशे के अंदर गर्माहट पैदा हो जाती है और हल्का हल्का बुखार रहने लगता है और हमारे पेट के अंदर भी बहुत ही ज्यादा गर्माहट हो जाती है जिसकी वजह से हमारे शरीर का पानी जल जाता है

यह भी पढ़ें- रोजाना खाएं एक किवी, बीपी की समस्या पास भी नहीं आएगी

घरेलू उपाय  (Home Remedies for Low Blood Pressure in Hindi)

कैफीन का सेवन (Caffine Benefits)

जैसे चाय या कॉफी रक्तचाप को बढ़ाने में सहायता करते हैं, जैसे ही आपका बीपी बहुत लो होने लगे तो आप एक कप कॉफी या चाय पी लें उससे काफी हद तक बीपी नॉर्मल हो जाता है. 

किशमिश

50 ग्राम देशी चने व 10 ग्राम किशमिश को रात में 100 ग्राम पानी में किसी भी कांच के बर्तन में रख दें. सुबह चनों को किशमिश के साथ अच्छी तरह से चबा-चबाकर खाएं और पानी को पी लें

गाजर (Carrot benefits)

गाजर और पालक का रस लो ब्लडप्रेशर फायदेमंद हो सकती है, इसके लिए लगभग 200 ग्राम गाजर के रस में एक चौथाई पालक का रस मिलाकर पिएं

छाछ 

छाछ में नमक,भुना हुआ जीरा और हींग मिलाकर इसका सेवन करते रहने से भी ब्लड प्रेशर नियंत्रित रहता है. 

टमाटर
टमाटर का सेवन भी लो बीपी में फायदेमंद है, टमाटर का रस या किसी भी रूप में इसका सेवन फायदेमंद है. 

आंवला 

आंवला का रस या फिर आंवला वैसे ही खाने से लो बीपी की समस्या कम हो जाती है. 

अदरक 

अदरक को आप किसी भी रूप में ले सकते हैं, अदरक का रस या फिर खाने में अदरक, अदरक की चाय भी बहुत फायदेमंद होती है, अगर आपका बीपी एकदम से लो हो गया है तो तुरंत आप अदरक चूस लें

खजूर 

खजूर खाने से आपका खून सही रहता है और उससे बीपी भी कंट्रोल में रहता है 

नींबू का रस भी बहुत ही फायदेमंद है

(Disclaimer: हमारा लेख केवल जानकारी प्रदान करने के लिए है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें.) 

देश-दुनिया की ताज़ा खबरों Latest News पर अलग नज़रिया, अब हिंदी में Hindi News पढ़ने के लिए फ़ॉलो करें डीएनए हिंदी को गूगलफ़ेसबुकट्विटर और इंस्टाग्राम पर

देश और दुनिया की ख़बर, ख़बर के पीछे का सच, सभी जानकारी लीजिए अपने वॉट्सऐप पर-  DNA को फॉलो कीजिए

Live tv