Twitter
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

Shraddha Murder Case: गुजरात चुनाव में हिमंत बिस्वा ने फिर बताया 'लव जिहाद', बोले- दिल्ली लाकर आफताब ने क्या किया

Gujarat Election 2022 में प्रचार कर रहे Himanta Biswa Sarma ने श्रद्धा वलकर की हत्या का हवाला देकर लव जिहाद के खिलाफ मजबूत कानून की मांग की है.

article-main

Gujarat Election 2022 में हिमंत बिस्वा सरमा लगातार लव जिहाद का मुद्दा उठा रहे हैं.

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

TRENDING NOW

डीएनए हिंदी: दिल्ली के श्रद्धा मर्डर केस (Shraddha Murder Case) का असर गुजरात विधानसभा चुनाव (Gujarat Assembly Election 2022) में भी दिखाई दे रहा है. भाजपा के लिए प्रचार कर रहे असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा (Himanta Biswa Sarma) चुनावी रैलियों में इस केस का हवाला देकर 'लव जिहाद (Love Jihad)' के खिलाफ मजबूत कानून की मांग बार-बार उठा रहे हैं. हिमंत ने मंगलवार को एक बार फिर चुनावी रैली में कहा कि देश को लव जिहाद के खिलाफ कठोर कानून की जरूरत है, जो केवल भाजपा ही दे सकती है. 

पढ़ें- चाकू, हथौड़ा और... जानिए श्रद्धा के टुकड़े करने में आफताब ने इस्तेमाल किए कौन-कौन से हथियार

क्या होता है लव जिहाद, क्यों उठा रहे हिमंत इसका मुद्दा

लव जिहाद शब्द का उपयोग तब किया जाता है, जब कोई मुस्लिम व्यक्ति हिंदू महिला से शादी करने के बाद उसका धर्मांतरण करा देता है. श्रद्धा वलकर (Shraddha Walkar) की खौफनाक हत्या का राज खुलने पर आफताब अमीन पूनावाला (Aaftab Amin Poonawala) के मुस्लिम होने के कारण लव जिहाद की चर्चा फिर शुरू हो गई है. श्रद्धा के पिता ने भी इस एंगल से इनकार नहीं किया है.

पढ़ें- ब्रह्मा, विष्णु, महेश नहीं हैं भगवान, सामूहिक विवाह सम्मेलन में दिलाई शपथ पर भड़की भाजपा

इसी कारण हिमंत लगातार गुजरात की रैलियों में इस मामले का जिक्र कर रहे हैं, जहां हिंदू-मुस्लिम ध्रुवीकरण मतदान के दौरान बेहद अहम भूमिका निभाता है. हिमंत ने मंगलवार से पहले भी महरौली मर्डर केस (Mehrauli murder case) का हवाला देते हुए कहा था कि यदि देश के पास आज कोई मजबूत नेता नहीं होता तो हर शहर में आफताब जैसे हत्यारे दिखाई देते. इसलिए नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) का साल 2024 में तीसरी बार फिर से प्रधानमंत्री बनना बेहद अहम है. इससे पहले दिल्ली में भी उन्होंने यूनिफॉर्म सिविल कोड (uniform civil code) के साथ ही लव जिहाद के खिलाफ कड़े कानून की जरूरत का मुद्दा उठाया था.

पढ़ें- 'ये पप्पू कभी पास नहीं होगा', ये कहकर भाजपा MLA नीतेश राणे ने उड़ाई Rahul Gandhi की हंसी

शादी का झांसा देकर श्रद्धा को दिल्ली लाया, फिर क्या हुआ?

मंगलवार को हिमंत ने कहा, आफताब ने श्रद्धा को शादी करने का झांसा दिया और उसे दिल्ली लेकर आ गया, लेकिन फिर क्या हुआ? उसने उसके शरीर को 35 टुकड़ों में काट दिया. जब श्रद्धा का शव फ्रीजर में रखा था तो वह दूसरी महिला को डेट पर लेकर आ गया.

पढ़ें- असम-मेघालय बॉर्डर पर हिंसा में 6 की मौत, 7 जिलों में 48 घंटे के लिए Internet बैन

हिमंत ने कहा, जब पुलिस ने उससे पूछा कि तुम केवल हिंदू महिलाओं को ही क्यों लाते हो तो आफताब बोला कि हिंदू भावुक होते हैं. अब देखिए, यह किसी एक आफताब की कहानी नहीं है. देश में बहुत सारे आफताब-श्रद्धा हैं और इसी कारण देश को लव जिहाद के खिलाफ मजबूत कानून की जरूरत है.

देश-दुनिया की ताज़ा खबरों Latest News पर अलग नज़रिया, अब हिंदी में Hindi News पढ़ने के लिए फ़ॉलो करें डीएनए हिंदी को गूगलफ़ेसबुकट्विटर और इंस्टाग्राम पर.

देश और दुनिया की ख़बर, ख़बर के पीछे का सच, सभी जानकारी लीजिए अपने वॉट्सऐप पर-  DNA को फॉलो कीजिए

Live tv

पसंदीदा वीडियो