Twitter
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

Airplane के ऊंचाई पर पहुंचते ही सो जाते हैं पायलट्स, जानें फ्लाइट से जुड़े कुछ ऐसे ही और दिलचस्प फैक्ट्स

आज हम आपको एयरलाइंस से जुड़ी कुछ ऐसी बातें बताने वाले हैं जिनके बारे में आमतौर पर लोगों को नहीं पता होता है.

article-main
FacebookTwitterWhatsappLinkedin

TRENDING NOW

डीएनए हिंदी: आपने अपने जीवन में कई बार हवाई जहाज से सफर किया होगा लेकिन फ्लाइट में बैठने से पहले क्या आप एयरलाइंस से जुड़ी जानकारी प्राप्त करते हैं? क्या कभी आपने सुरक्षा को लेकर सवाल-जवाब किए हैं? अगर नहीं है तो आज हम आपको एयरलाइंस से जुड़ी कुछ ऐसी बातें बताने वाले हैं जिनके बारे में आमतौर पर लोगों को नहीं पता होता है. बता दें कि ऐसे कई राज हैं जिन्हें एयरलाइंस कंपनियां छिपा कर रखती है. ऐसे में जानते हैं हवाई यात्रा और एयरलाइंस कंपनी से जुड़े कुछ रोमांचक फैक्ट्स-

क्यों जलाई जाती हैं डिम लाइट्स?
अक्सर लोगों को लगता है कि फ्लाइट में धीमी लाइट्स इसलिए जलाई जाती हैं ताकि यात्रियों की आंखों को आराम मिल सके और वे सही तरीके से सोते हुए अपना सफर तय कर सकें. हालांकि ऐसा नहीं है. इन सब कारणों से अलग ऐसा इसलिए किया जाता है ताकि पॉवर सप्लाई में बचत हो सके. 

दरअसल, रन-वे पर लैंडिंग या टेक ऑफ के दौरान प्लेन को एक्स्ट्रा पॉवर की जरूरत होती है जिसकी वजह से फ्लाइट में जल रही सभी लाइट्स एकदम से बंद हो जाती हैं और उनकी जगह पर धीमी लाइट्स जल जाती हैं. 

ये भी पढ़ें- White Color के ही क्यों होते हैं Airplane? खास है वजह

पायलट्स को नहीं मिलता पैसेंजर्स वाला खाना
क्या आप जानते हैं कि फ्लाइट में आपको जो खाना मिलता है वो पायलट को मिलने वाले खाने से अलग होता है? ऐसा इसलिए क्योंकि फ्लाइट में पायलट्स की सेहत का सबसे ज्यादा ध्यान रखा जाता है. हवाई सफर के दौरान उन्हें केवल हल्क-फुल्का खाना ही परोसा जाता है जो आसानी से डाइजेस्ट हो जाता है. वहीं अगर पायलट्स को भी यात्रियों की तरह तला, भुना या ज्यादा मसालेदार भोजन दिया जाए तो वे पेट खराब होने की वजह से टॉयलेट में ही बैठे रह जाएंगे. ऐसे में आपको लैंड कौन करवाएगा, सोचने वाली बात है!

ये भी पढ़ें- Taj Mahal Controversy: ताजमहल में भरा भूसा और घोड़े भी बंधवाए, हिंदू राजाओं की वो कहानियां जो आपने आजतक नहीं सुनी होंगी

ऊंचाई पर ले जाकर सो जाते हैं पायलट
सोचिए कि आप एक प्लेन में बैठे हों और आपका पायलट सो जाए तो कैसा रहेगा? सुनने में यह थोड़ा डरावना है लेकिन यही सच है. दरअसल, ऊंचाई पर जाने के बाद प्लेन के अंदर एयर पॉकेट बनने लगता है जिसकी वजह से पायलट को नींद आने का अहसास होता है. ऐसे में पायलट सोने से पहले प्लेन का ऑटो पायलट मोड ऑन कर देता है लेकिन घबराइए नहीं एक पायलट के सोने के बाद दूसरा पायलट जगा रहता है. इस तरह पायलट के सो जाने के बाद भी प्लेन आराम से हवा में उड़ता रहता है.

ये भी पढ़ें- 'Blue Film' के नाम से ही क्यों जानी जाती है एडल्ट फिल्म? Red-white या कोई और रंग क्यों नहीं?

देश-दुनिया की ताज़ा खबरों पर अलग नज़रिया, फ़ॉलो करें डीएनए हिंदी को गूगलफ़ेसबुकट्विटर और इंस्टाग्राम पर.


 

देश और दुनिया की ख़बर, ख़बर के पीछे का सच, सभी जानकारी लीजिए अपने वॉट्सऐप पर-  DNA को फॉलो कीजिए

Live tv