Twitter
Advertisement
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

IND vs ENG Ranchi Test: मैच जीतने के लिए बेन स्टोक्स करेंगे ये काम, एक साल बाद दिखेगा पुराना अवतार?

India vs England 4th Test Ranchi: भारत और इंग्लैंड के बीच 5 मैचों की टेस्ट सीरीज का चौथा मुकाबला रांची में खेला जाएगा, जिसको देखते ही बेन स्टोक्स ने बड़ा बयान दिया है.

Latest News
article-main

Ben Stokes

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

भारत और इंग्लैंड के बीच 5 टेस्ट मैचों की सीरीज का चौथा मुकाबला रांची में खेला जाएगा. पहले मैच में शानदार जीत हासिल करने वाली इंग्लैंड की टीम दूसरे और तीसरे टेस्ट में हार गई थी. सीरीज में 2-1 से पिछड़ने के बाद इंग्लैंड की टीम चौथे टेस्ट में बराबरी के इरादे से मैदान पर उतरेगी. रांची में बराबरी करने के इरादे से कप्तान बेन स्टोक्स पूरी ताकत झोकने के लिए तैयार हैं और वह एक साल बाद फिर से टेस्ट में बॉलिंग करते दिखाई दे सकते हैं. बेन स्टोक्स ने नेट में गेंदबाजी के कड़े अभ्यास किए, जिससे भारत के खिलाफ चौथे टेस्ट में उनके गेंदबाजी करने की उम्मीद बढ़ गई है. 

ये भी पढ़ें: 22 मार्च से शुरू होगा IPL, पहले ही दिन CSK vs RCB का मुकाबला

इंग्लैंड के कप्तान ने गुरुवार को यहां बतौर गेंदबाज अपनी उपलब्धता पर संदेह कायम रखना ही सही समझा. घुटने की समस्या के कारण स्टोक्स पिछले साल जून में दूसरे एशेज टेस्ट से बाद से बतौर बल्लेबाज ही खेल रहे हैं. लेकिन भारत के खिलाफ चौथे टेस्ट की पहले उन्हें पूरी शिद्दत से गेंदबाजी करते हुए देखा गया. मैच में उनके गेंदबाजी की संभावना के बारे में पूछने पर स्टोक्स ने कहा, ‘‘ना, मुझे लगता है कि ऐसा हो सकता है और शायद नहीं भी.’’ स्टोक्स ने कहा कि इंग्लैंड के लिए दो तेज गेंदबाजों के साथ उतरना सही विकल्प हो सकता है जिससे उन्हें लंबी कद काठी के ओली रोबिन्सन को प्लेइंग में शामिल करना पड़ा है. 

पिच को लेकर क्या बोले बेन स्टोक्स?

हालांकि रांची की पिच के स्पिनरों के मददगार होने की उम्मीद है. स्टोक्स ने मैच से पहले आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में कहा, ‘‘ विशेष रूप से इस विकेट को देखते हुए रोबिन्सन को लाने से हमें अच्छे विकल्प मिलेंगे.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि स्पिनरों को मदद मिलेगी लेकिन मुझे यह भी लगता है कि दो तेज गेंदबाजों को शामिल करने से हमें ओली रोबिन्सन की लंबाई से अच्छा फायदा मिलेगा.’’ पिछली बार एशेज में खेलने वाले रोबिन्सन को मार्क वुड की जगह शामिल किया गया है जबकि लेग स्पिनर रेहान अहमद की जगह शोएब बशीर ने ली है. स्टोक्स ने कहा, ‘‘पिच देखने के बाद मुझे लगता है कि इस पर स्पिनरों को मदद मिलेगी लेकिन लगता है कि बशीर जैसा गेंदबाज हमें मैच में दबदबा बनाने में मदद करेगा.’’ 

'पिच को लेकर होने वाली बातों से नहीं पड़ता फर्क'

स्टोक्स ने मैच के लिए तैयार की गई पिच को लेकर कहा कि उन्होंने पहले कभी इस तरह की पिच नहीं देखी लेकिन पिच को लेकर किसी भी धारणा के अनुसार चलना ठीक नहीं है. उन्होंने कहा, ‘‘हमसे पिच के बारे में पूछा जाता है और हम अपनी राय देते हैं लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि हम पहले से बनाई धारणा के साथ चल रहे हैं. पिच सपाट भी हो सकती है, कौन जानता है.’’ इंग्लैंड के कप्तान ने कहा, ‘‘अगर यह बदलेगी तो हम भी इसके अनुसार ही सांमजस्य बिठायेंगे और अगर यह हमारी सोच से भी ज्यादा अलग होगी तो हम इसके भी मुताबिक ढलेंगे. हम पर पिच से संबंधित बातों का असर नहीं पड़ेगा.’’ 

एंडरसन के लिए कही बड़ी बात

इंग्लैंड ने अनुभवी जेम्स एंडरसन को टीम में बरकरार रखा है जो 700 विकेट लेने की उपलब्धि से महज सात विकेट दूर हैं और वह यह उपलब्धि हासिल करने वाले पहले तेज गेंदबाज भी बन जायेंगे. एंडरसन ने अभी तक सीरीज के दो मैच में 73 ओवर डाले हैं जिसमें उन्हें छह विकेट मिले हैं. स्टोक्स ने कहा, ‘‘अगर आप युवा तेज गेंदबाज हो तो जिम्मी एंडरसन ऐसा खिलाड़ी है जिसे आप अपना आदर्श बनाना चाहोगे. यह सिर्फ उनके विकेट झटकने की काबिलियत के बारे में नहीं है बल्कि इस उम्र तक खेलना ज्यादा अहम है.

देश-दुनिया की ताज़ा खबरों Latest News पर अलग नज़रिया, अब हिंदी में Hindi News पढ़ने के लिए फ़ॉलो करें डीएनए हिंदी को गूगलफ़ेसबुकट्विटर और इंस्टाग्राम पर.

Advertisement

Live tv

Advertisement
Advertisement