Twitter
Advertisement
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

Shiv Puran: मौत से कुछ समय पहले ही व्यक्ति को मिलते हैं ये 3 संकेत, शिव पुराण में किया गया है वर्णन

जन्म के बाद मृत्यु एक अटल सत्य है. इसे चाहकर भी कोई नहीं रोक सकता है. हालांकि सभी के मृत्यु के कारण अलग-अलग हो सकते हैं. शिव पुराण (ShivPuran ) में मृत्यु से पहले ही मिलने वाले कुछ संकेतों (Shiv Puran Death Signs) के बारे में बताया गया है, जिनका अभास व्यक्ति को मरने से पहले हो जाता है. 

Latest News
article-main
FacebookTwitterWhatsappLinkedin

Shiv Puran Death Sign: शिवपुराण हिंदू धर्म महत्वपूर्ण पुराणों में से एक है. इसमें भगवान शिव यानी महादेव (Lord Shiva) की महिमा का वर्णन मिलता है. पुराण में भगवान शिव (Lord Shiv) की लीलाओं से लेकर से लेकर उनके अलग अलग अवतार और कृपा के बारें में विस्तार से बताया गया है. इसमें व्यक्तियों के जन्म से लेकर मरने, कर्म और उनकी गति का भी उल्लेख किया गया है. शिवपुराण में व्यक्ति की मौत से पहले ही होने वाले बदलाव और संकेतों का ​वर्णन भी मिलता है. 


Mahashivratri 2024: भगवान शिव के इस मंत्र जाप से रोग के साथ भय से मिलती है मुक्ति, जानें और भी फायदे


शिवपुराण के अनुसार, किसी भी व्यक्ति की जब मौत समीप होती है. इसका आभास उसे पहले से होने लगता है. मृत्यु से पहले संकेत मिलने लगते हैं, लेकिन लोग इन्हें पहचान नहीं पाते हैं. कहा जाता है कि मृत्यु से पहले ही व्यक्ति की 5 इंद्रियां सही तरीके से काम करना बंद कर देती हैं, जिस भी व्यक्ति के साथ ऐसा होता है. माना जाता है कि ऐसे लोगों की मृत्यु का समय समीप है. 

शरीर पर दिखें ये निशान

अगर किसी व्यक्ति का शरीर अचानक से ही नीला या सफेद पड़ जाये या फिर बॉडी पर जगह जगह लाल चकत्ते जैसे निशान दिखने लगे तो समझ लें कि उक्त व्यक्ति की मृत्यु का समय समीप है. शिवपुराण में इसे मृत्यु का संकेत माना गया है. 


नहाने के पानी में मिला ली ये 5 चीज, करियर में सफलता के साथ खूब आएगा पैसा


बायां हाथ फड़कने पर

शिवपुराण में बताया गया कि अगर किसी व्यक्ति का बायां हाथ फड़कने लगे तो या फिर उसके मुंह के अंदर का ऊपरी हिस्सा सूखने लगे तो यह भी व्यक्ति की मृत्यु का ही एक संकेत देता है. माना जाता है कि ऐसे व्यक्ति का समय बेहद नजदीक है. जल्द ही मृत्यु हो सकती है.

 Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. डीएनए हिंदी इसकी पुष्टि नहीं करता है.)

देश-दुनिया की Latest News, ख़बरों के पीछे का सच, जानकारी और अलग नज़रिया. अब हिंदी में Hindi News पढ़ने के लिए फ़ॉलो करें डीएनए हिंदी को गूगलफ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और वॉट्सऐप पर.

Advertisement

Live tv

Advertisement
Advertisement