Twitter
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

राजस्थान में बनी दुनिया की सबसे ऊंची शिव प्रतिमा, लिफ्ट से होंगे दर्शन, फूड कोर्ट और एडवेंचर पार्क भी होगा

Shiva Statue: राजस्थान के नाथद्वारा में बनी शिव प्रतिमा को दुनिया की सबसे ऊंची शिव मूर्ति बताया जा रहा है. जानिए इससे जुड़ी खास बातें.

article-main

Tallest Shiva Murti

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

TRENDING NOW

डीएनए हिंदी: कला, किले, महल, हवेलियां, खाना, कपड़े, गहने...राजस्थान के इन रंगों में अब एक और पहचान जुड़ गई है. अब राजस्थान में होगी दुनिया की सबसे ऊंची शिव प्रतिमा. आज राजस्थान के राजसमंद जिले के नाथद्वारा में बनी इस शिव प्रतिमा का लोकार्पण समारोह शुरू होगा. यह समारोह 6 नवंबर तक चलेगा. आज इसकी शुरुआत मोरारी बापू की राम कथा से होगी. 6 नवंबर को मोरारी बापू इस प्रतिमा का अनावरण करेंगे. जानते हैं इस प्रतिमा से जुड़ी खास बातें-

1.आज नाथद्वारा में मोरारी बापू, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, विधानसभा स्पीकर सीपी जोशी और अन्य गणमान्य लोगों की मौजूदगी में इस शिव मूर्ति का अनवारण समारोह शुरू होगा. इस मूर्ति को विश्वास स्वरूपम का नाम दिया गया है. 

यह भी पढ़ें- कब है आंवला नवमी, कैसे करें पूजा, क्या है शुभ समय, कथा और मंत्र

2.'विश्वास स्वरूपम' को दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा कहा जा रहा है. इस शिव प्रतिमा की ऊंचाई 369 फीट है. नाथद्वारा जहां यह मूर्ति स्थित है, वह जगह उदयपुर से 45 किमी दूर स्थित है.

3. इस प्रतिमा को बनाने में 10 साल का समय लगा है. इसे संत कृपा सनातन संस्थान ने तैयार किया है. इस प्रतिमा में लिफ्ट, सीढ़ियां, हॉल आदि भी बनाए गए हैं. बताया जा रहा है कि यह ऐसी एकमात्र प्रतिमा है, जिसमें ये सुविधाएं दी गई हैं.

यह भी पढ़ें- 3 महीने बाद नहीं चलेगी ट्विटर-फेसबुक की मनमानी, नोटिफाई हुए नियम, बनाना होगा Grievance Panel

4. यह प्रतिमा 51 बीघा की पहाड़ी पर बनी है. इस प्रतिमा में भगवान शिव ध्यान की मुद्रा में विराजित हैं. प्रतिमा की ऊंचाई की वजह से यह लगभग 20 किमी दूर से भी दिखाई देगी. रात में भी यह प्रतिमा जगमगाए और नजर आए इसके लिए खास लाइट्स की व्यवस्था की गई है. 

5. इस मूर्ति का निर्माण जाने-माने शिल्पकार नरेश कुमावत ने किया है.  देश की कई राज्य सरकार एवं केन्द्र सरकार मूर्ति शिल्प के लिए कुमावत को सम्मानित कर चुकी हैं.

देश-दुनिया की ताज़ा खबरों Latest News पर अलग नज़रिया, अब हिंदी में Hindi News पढ़ने के लिए फ़ॉलो करें डीएनए हिंदी को गूगलफ़ेसबुकट्विटर और इंस्टाग्राम पर.

देश और दुनिया की ख़बर, ख़बर के पीछे का सच, सभी जानकारी लीजिए अपने वॉट्सऐप पर-  DNA को फॉलो कीजिए

Live tv