Twitter
Advertisement
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

कब और कैसे स्टार्ट करवाएं छोटे बच्चों का टूथब्रश करना? ऐसे करें Baby's Teeth Care

How To Brush Baby Teeth: छोटे बच्चों की ओरल हेल्थ की देखभाल के लिए इन तरीकों को अपनाना चाहिए.

Latest News
article-main

How To Brush Baby Teeth

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

Child Oral Health Care: ओरल हेल्थ का ध्यान रखना बहुत ही जरूरी होता है. इसके लिए सबसे अच्छा तरीका है कि दिन में दो बार टूथब्रश करें. बड़े लोगों के लिए ओरल हेल्थ की केयर करना आसान होता है लेकिन छोटे बच्चों को लेकर मांओं के मन में अक्सर सवाल उठते रहते हैं कि बच्चों को टूथब्रश (Brushing Baby's Teeth) कब कराना शुरू करना चाहिए. चलिए आपको बताते हैं कि शिशु की ओरल हेल्थ केयर कैसे करें और कब से ब्रश करवाना (When to Start Brushing Baby's Teeth) शुरू करें.

ऐसे करें छोटे बच्चों के दांतों की केयर (How to Care for Your Child's Teeth)
छोटे बच्चों की मुंह की सफाई यानी ओरल हाइजीन का ध्यान रखना चाहिए. नवजात बच्चों जब खाना शुरू कर देते हैं और दांत निकलने लगते हैं तो उनकी ओरल स्वास्थ्य का ध्यान रखना चाहिए. जब 6 महीने या एक साल की उम्र में बच्चे के दांत निकलने लगते हैं तो हल्के गुनगुने पानी से कपड़े की मदद से साफ करें. उंगली की मदद से दांत और मसूड़ों का साफ करना चाहिए.


बाथरूम की टाइल्स पर जमी गंदगी साफ करने के लिए फॉलो करें ये हैक्स, चमक जाएगा Bathroom


इस उम्र में करवाएं ब्रश से इंट्रोड्यूस
बच्चे के ऊपर और नीचे दांत निकल आने पर बच्चे को ब्रश से इंट्रोड्यूस करा सकते हैं. बच्चे को डेढ़-दो साल की उम्र में ब्रश कराने की आदत डालनी चाहिए. जब बच्चा थूकना सीख जाता है. वरना वह टूथब्रश करने के बाद थूक नहीं पाएगा. डेढ़ साल से कम उम्र के बच्चों को कभी भी ब्रश न कराएं. बच्चे को दिन में दो बार ब्रश कराने की आदत डालनी चाहिए. ओरल हेल्थ केयर के लिए यह अच्छा होता है.

बच्चे के लिए ऐसे टूथब्रश का करें इस्तेमाल
छोटे बच्चे के मसूड़े बहुत ही कोमल और मुलायम होते हैं. ऐसे में ब्रश का इस्तेमाल उन्हें नुकसान पहुंचा सकता है. बच्चे का टूथब्रश बेहद नर्म और मुलायम होना चाहिए. छोटे बच्चे को टूथब्रश अपने साथ कराना चाहिए जिससे की बच्चा आपको देखकर अच्छे से ब्रशिंग करना सीख जाएं.

Disclaimer: यह लेख केवल आपकी जानकारी के लिए है. इस पर अमल करने से पहले अपने विशेषज्ञ डॉक्टर से परामर्श लें.

देश-दुनिया की ताज़ा खबरों Latest News पर अलग नज़रिया, अब हिंदी में Hindi News पढ़ने के लिए फ़ॉलो करें डीएनए हिंदी को गूगलफ़ेसबुकट्विटर और इंस्टाग्राम पर.

Advertisement

Live tv

Advertisement
Advertisement