Twitter
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

Pokhran Nuclear Test: PM मोदी ने वैज्ञानिकों को किया सलाम, वाजपेयी को किया याद

PM Modi ने पोखरण टेस्ट से जुड़ा एक वीडियो भी शेयर किया है. वीडियो में अटल बिहारी वाजपेयी भी नजर आ रहे हैं.

article-main

पोखरण टेस्ट के दौरान पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी. (फाइल फोटो)

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

TRENDING NOW

डीएनए हिंदी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने बुधवार को राष्ट्रीय प्रौधोगिक दिवस और पोखरण परीक्षण की वर्षगांठ के अवसर पर देश के वैज्ञानिकों  और उनके प्रयासों की प्रशंसा की. इस मौके पर पीएम मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री अजल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) को भी याद किया और उनके राजनीतिक साहस की प्रशंसा की.

पीएम नरेंद्र मोदी  (PM Narendra Modi) ने ट्ववीट किया, ' राष्ट्रीय प्रोधोगिकी दिवस के मौके पर आज हम अपने उत्कृष्ट वैज्ञानिकों और उनके प्रयासों के प्रति आभार व्यक्त करते हैं. उनके प्रयासों से हमें 1998 में पोखरण परमाणु परीक्षण में सफलता हासिल हुई.'

Corona के बढ़ते मामलों के बीच मुख्यमंत्रियों से बोले PM Modi, अभी खत्म नहीं हुआ कोरोना का खतरा
 
पीएम मोदी (PM Narendra Modi) ने कहा, 'हम अटल बिहारी वाजपेयी जी (Atal Bihari Vajpayee) के कुशल नेतृत्व को भी गर्व के साथ याद करते हैं और जिन्होंने राजनीतिक साहस और राजनीतिक कौशल का परिचय दिया.'

पीएम मोदी ने इस दिन को याद दिलाने के लिए एक वीडियो क्लिप ट्वीट किया, जिसमें देखा जा सकता है राजस्थान के पोखरण रेंज में परमाणु परीक्षण किए गए थे. वीडियो क्लिप में तत्कालीन प्रधानमंत्री अजल बिहारी वाजपेयी तीन भूमिगत परमाणु परीक्षणों की सफलता की घोषणा करते हुए दिखाई दे रहे हैं.

PM Narendra Modi से पूर्व नौकरशाहों की अपील, 'नफरत की राजनीति' रोकने का करें आह्वान

1998 में भारत ने किया था पहला परमाणु परिक्षण

गौरतलब है कि 11 मई 1998 यानी आज ही के दिन भारत ने अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व में पांच परमाणु परीक्षणों में से पहला परीक्षण किया था. यह उपलब्धि हासिल कर भारत परमाणु सम्पन्न देशों में शामिल होने वाला छठा देश बन गया था. भारत ने आज ही के दिन स्वदेश निर्मित 'हंस-3 विमान' और छोटी दूरी की मिसाइल ‘त्रिशूल’ का भी सफल परीक्षण किया था, जो भारत के लिए एक क्रीतमान साबित हुआ.  भारत के वैज्ञानिकों की इस कामयाबी को 1999 से 11 मई के दिन को राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी दिवस के रूप में मनाया जाता है.

गूगल पर हमारे पेज को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें. हमसे जुड़ने के लिए हमारे फेसबुक पेज पर आएं और डीएनए हिंदी को ट्विटर पर फॉलो करें.

देश और दुनिया की ख़बर, ख़बर के पीछे का सच, सभी जानकारी लीजिए अपने वॉट्सऐप पर-  DNA को फॉलो कीजिए

Live tv