Twitter
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

मशहूर संतूर वादक Pandit Shiv Kumar Sharma का निधन, पीएम मोदी ने कहा- आज भी याद है वो मुलाकात

Santoor Vadak Pandit Shiv kumar Sharma Death: पंडित शिव कुमार शर्मा के निधन से आज संगीत की दुनिया में शोक का माहौल है.

article-main

Pandit Shiv Kumar Sharma Death

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

TRENDING NOW

डीएनए हिंदी: मशहूर भारतीय संगीतकार और संतूर वादक पंडित शिव कुमार शर्मा का निधन हो गया है. भारतीय संगीत को उनके खास अंदाज की वजह से अतंर्राष्ट्रीय पहचान मिली थी. पंडित शिव कुमार शर्मा ने फिल्मों में भी योगदान दिया था. उनका जन्म 13 जनवरी 1938 को जम्मू में हुआ था. उनके पिता उमा दत्त शर्मा भी एक गायक थे. उन्होंने ही पांच साल की उम्र से बेटे शिव कुमार को तबला और संगीत सिखाना शुरू किया.

ये भी पढ़ें- दिग्गज कोरियन एक्ट्रेस Kang Soo-Yeon के निधन से सदमे में इंडस्ट्री, ब्रेन हेमरेज ने ली जान

पिता औऱ बेटे की यह जुगलबंदी शिव कुमार शर्मा के साथ आगे भी जारी रही. एक तरफ जहां 13 साल की उम्र में शिव कुमार शर्मा ने संतूर सीखना शुरू कर दिया था. वहीं उन्होंने अपने बेटे राहुल को इसका प्रशिक्षण दिया.वह सन् 1996 से अपने बेटे राहुल के साथ परफॉर्म करते आ रहे हैं.

अब शिव कुमार शर्मा के निधन पर पीएम मोदी से लेकर ममता बनर्जी तक कई मशहूर हस्तियों ने भी शोक जताया है-

फिल्मों में योगदान
दुनिया भर में संतूर को एक मशहूर वाद्ययंत्र बनाने के पीछे शिवकुमार शर्मा का अहम योगदान है. सन् 1967 में शिवकुमार शर्मा ने हरिप्रसाद चौरसिया के साथ साझेदारी की. इसके बाद दोनों की जोड़ी शिव-हरि के नाम से मशहूर हुई. इन्होंने फासले, चांदनी, लम्हे और डर जैसी फिल्मों में संगीत दिया. 

ये भी पढ़ें-  Indian Railways Update: खिड़की वाली सीट पर बैठकर करना है सफर तो जान लीजिए रेलवे के ये नियम

गूगल पर हमारे पेज को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें. हमसे जुड़ने के लिए हमारे फेसबुक पेज पर आएं और डीएनए हिंदी को ट्विटर पर फॉलो करें.

देश और दुनिया की ख़बर, ख़बर के पीछे का सच, सभी जानकारी लीजिए अपने वॉट्सऐप पर-  DNA को फॉलो कीजिए

Live tv

पसंदीदा वीडियो