Twitter
Advertisement
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

Srinagar Highway: चप्पे-चप्पे पर कैमरा, 24 घंटे ट्रैफिक पर नजर, ऐसे सड़क संभालेगी J-K पुलिस

Jammu और Kashmir के Srinagar Highway की सुरक्षा बढ़ने वाली है. प्रशासन ट्रैफिक व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए अहम कदम उठा रहा है.

Latest News
article-main

Srinagar हाईवे की 10 अहम जगहों पर CCTV नाइट विजन कैमरे लगाए गए हैं.

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

जम्मू और कश्मीर (Jammu and Kashmir) पुलिस अपने अपने नागरिकों की सुरक्षा के लिए 24 घंटे अलर्ट है. श्रीनगर हाईवे (Srinagar Highway) पर पुलिस-प्रशासन जगह-जगह CCTV कैमरा लगा रहा है.

अब पुलिस इस हाई पर हाईटेक सुविधाओं का लाभ लेगी, जिससे दहशतगर्दों पर भी नजर रखी जा सके. जम्मू श्रीनगर नेशनल हाईवे की सुरक्षा और हाईवे पर लगातार लगने वाले जाम के मद्देनजर पुलिस ने नई व्यवस्था तैयार की है. 

जम्मू कश्मीर पुलिस ने हाईवे पर कैमरा लगाना शुरू कर दिया है. जम्मू से श्रीनगर के बीच पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर 10 हाईटेक कैमरे लगाए गए हैं. 
 


इसे भी पढ़ें- Himachal Pradesh Live: हिमाचल प्रदेश विधानसभा के स्पीकर ने रद्द की 6 विधायकों की सदस्यता, क्रॉस वोटिंग के चलते हुआ एक्शन


 

अब इन कैमरों की मददद से जम्मू श्रीनगर हाईवे पर चलने वाली गाड़ियों पर नजर रखी जा सकेगी. इन कैमरों की मदद से ट्रैफिक मूवमेंट पर नजर रखी जाएगी.

क्या होगा इन कैमरों से लाभ?
कैमरों के जरिए किसी भी संदिग्ध गतिविधि या ट्रैफिक मूवमेंट पर पुलिस की नजर 24 घंटे रहेगी. दूसरी बात इस रूट पर अक्सर लंबे-लंबे जाम देखे जाते हैं. अगर कैमरे होंगे तो ट्रैफिक पुलिस के लिए जाम कंट्रोल आसान हो जाएगा.

क्यों श्रीनगर हाईवे के लिए जरूरी था ये प्रोजेक्ट?
-
ट्रैफिक पुलिस ने NH-44 के उधमपुर-बनिहाल खंड पर नाइट विजन वाले कैमरे लगाए हैं. कई रणनीतिक तौर पर अहम रास्तों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं. 

- कैमरों की मदद से 3 से 4 किलोमीटर तक की दूरी पर नजर रखा जा सकता है. कैमरे उन पॉइंट्स पर लगाए गए हैं, जहां ट्रैफिक ज्यादा होती है.

- इन कैमरों की मदद से, फील्ड एजेंसियों को पता चल जाएगा कि ट्रैफिक जाम कहां कहा है, एक्सीडेंट कहां हुआ है, या कोई गाड़ी कहां खराब है.


इसे भी पढ़ें- Sandeshkhali कांड का मास्टर माइंड Sheikh Shahjahan गिरफ्तार, ईडी पर हमले के बाद से था फरार


 

- किसी भी स्थिति पर हाईवे पर जो अधिकारी मौजूद होंगे, वहां तक आसानी से पहुंच सकेंगे. डलवास, मेहर, जाखनी चौक और कई मेन पॉइंट्स पर कैमरे लगे हैं.

कहां है कैमरों का कंट्रोल रूम?
इन कैमरों का कंट्रोल रूम रामबन में है. यहीं से ट्रैफिक मूवमेंट पर नजर रखी जाएगी.

थमेंगे हिट एंड रन के मामले
कैमरे हिट-एंड-रन के मामलों पर भी नजर रखेंगे. कैमरे की मदद से गाड़ी और गाड़ी मालिकों की पहचान आसान हो सकेगी. फिलहाल 10 कैमरे लगाए गए हैं, जल्द ही और कैमरे लगाने की योजना है.

देश-दुनिया की ताज़ा खबरों Latest News पर अलग नज़रिया, अब हिंदी में Hindi News पढ़ने के लिए फ़ॉलो करें डीएनए हिंदी को गूगलफ़ेसबुकट्विटर और इंस्टाग्राम पर.

Advertisement

Live tv

Advertisement
Advertisement