Twitter
Advertisement
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

Elephant Attack Video: Jaipur के आमेर महल में भड़की हथिनी, सूंड में उठाकर पटकी रूसी पर्यटक

Elephant Attack Video: जयपुर में यह हादसा 13 फरवरी को हुआ था, जिसका CCTV फुटेज अब सामने आया है और सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है. पढ़िए जयपुर से दामोदर प्रसाद की रिपोर्ट.

Latest News
article-main
FacebookTwitterWhatsappLinkedin

Elephant Attack Video: राजस्थान की राजधानी जयपुर के आमेर महल में कई बार विवादों में फंस चुकी हाथी की सवारी फिर सवालों में आ गई है. दरअसल एक क्रोधित हथिनी ने यहां महिला रूसी पर्यटक पर हमला कर दिया. हथिनी ने पहले महिला पर्यटक को सूंड में लपेटा और फिर जोर से जमीन पर पटक दिया. महिला भाग्यशाली थी कि इतने खतरनाक हमले के बावजूद उसकी जान बच गई. हालांकि महिला की टांग टूट गई है, जिसके बाद उसे अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा है. इस घटना का CCTV Video सोशल मीडिया पर सामने आया है और बेहद वायरल हो रहा है. आमेर महल प्रशासन ने महिला को अस्पताल में भर्ती कराया है, जहां उसका इलाज चल रहा है. प्रशासन ने इस घटना के बाद हमलावर हथिनी के आमेर महल में एंट्री करने और उसके ऊपर पर्यटकों की सवारी कराने पर बैन लगा दिया है. 

क्या दिख रहा है वायरल वीडियो में

महिला पर्यटक पर हमले की यह घटना 13 फरवरी को हुई है, जिसका वीडियो अब वायरल हो रहा है. वायरल वीडियो में दिख रहा है कि गौरी नाम की हथिनी नंबर 86 जब आमेर महल के जलेब चौक पर पहुंची तो किसी बात पर वह भड़क गई. हथिनी ने रूसी महिला पर्यटक मारिया को अपनी सूंड में लपेटा और ऊंचा उठा लिया. इसके बाद हथिनी ने उसे जोर से झुलाते हुए तेजी से जमीन पर पटक दिया. इससे महिला पर्यटक का पैर टूट गया. एक अन्य पर्यटक भी इस हमले की चपेट में आया है. गौरी के तेजी से वहां से निकलने के बाद लोगों ने घायलों को उठाकर रेस्क्यू किया. इस वीडियो को देखकर लोग खौफजदा हो रहे हैं और हाथी की सवारी के दौरान सावधानी नहीं बरते जाने की बात कर रहे हैं. आमेर महल प्रशासन ने हथिनी के हमले से घायल हुई महिला को जल्दी से वहां से रेस्क्यू किया. इसके बाद उसे तत्काल SMS अस्पताल में भर्ती कराया गया है. जहां उनका इलाज चल रहा है. 

पहले भी कर चुकी है यह हथिनी हमला

गौरी हथिनी के किसी के ऊपर हमला करने का यह पहला मामला नहीं है. इससे पहले अक्टूबर, 2022 में भी इस हथिनी ने एक पुरुष दुकानदार पर हमला करके उसे गंभीर घायल कर दिया था. आमिर महल अधीक्षक राकेश छोलक ने बताया कि 13 फरवरी को हुई घटना के बाद हथिनी गौरी के आमेर महल संचालक व हाथी सवारी पर प्रतिबंध लगा दिया है. आमेर महल में हमेशा के लिए हाथी सवारी पर प्रतिबंध लगाने के लिए उच्च अधिकारियों को भी पत्र लिखा गया है. उधर, हथिनी के महावत इशाक मंसूरी का कहना है कि पर्यटकों के नीचे उतरते समय हथिनी की आंख और मुंह पर किसी का हाथ लग गया था. इससे हथिनी भड़क गई. महावत का कहना है कि इससे वह खुद भी हथिनी से नीचे गिर गया था. 

PETA ने लिखा है डिप्टी सीएम को पत्र

पशु संरक्षण के लिए काम करने वाली संस्था PETA ने इस घटना को लेकर राजस्थान की डिप्टी सीएम को पत्र लिखा है. पेटा ने आमेर महल की घटना का जिक्र करते हुए कहा, पब्लिक सेफ्टी और पशु कल्याण को ध्यान में रखते हुए गौरी हथिनी को तत्काल सेंक्चुरी में भेज देना चाहिए, जहां वह आजीवन मजदूरी के मानसिक सदमे से रिकवरी कर सके. पेटा ने हाथी की सवारी के बजाय सभी जगह इको-फ्रेंडली इलेक्ट्रिक व्हीकल्स चलाए जाने की भी मांग की है. पेटा ने पर्यटकों से भी उन गतिविधियों से दूर रहने की अपील की है, जिनमें हाथियों के सीधे संपर्क में आना पड़ता है.

देश-दुनिया की ताज़ा खबरों Latest News पर अलग नज़रिया, अब हिंदी में Hindi News पढ़ने के लिए फ़ॉलो करें डीएनए हिंदी को गूगलफ़ेसबुकट्विटर और इंस्टाग्राम पर.

Advertisement

Live tv

Advertisement
Advertisement