Twitter
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

Delhi Violence: जहांगीरपुरी हिंसा केस में 23 लोग गिरफ्तार, पुलिस का दावा- ज्यादातर आरोपियों का है क्रिमिनल रिकॉर्ड

पुलिस ने दावा किया है कि हिंसा का मुख्य साजिशकर्ता एक मोबाइल फोन पर रिपेयरिंग का काम करता है. उसका पुराना क्रिमिनल रिकॉर्ड रहा है.

article-main

दिल्ली में हिंसा भड़कने के बाद एक्शन मोड में पुलिस. (फोटो-PTI)

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

TRENDING NOW

डीएनए हिंदी: दिल्ली (Delhi) के जहांगीरपुरी (Jahangiripuri) में भड़की हिंसा के बाद 21 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. हनुमान जन्मोत्सव (Hanuman Janmotsav) पर निकल रही शोभायात्रा के दौरान भीषण पथराव हुआ था जिसके बाद से ही लगातार पुलिस आरोपियों की तलाशी में जुटी है. 

गिरफ्तार होने वाले लोगों में  2 नाबालिग को भी हिरासत में रखा गया है. दोनों पर आरोप है कि दंगा और अनलॉफुल असेंबली में शामिल हुए थे. पुलिस ने कहा है कि शुरुआती जांच में यह बात सामने आई है कि मुख्य आरोपी मोबाइल की एक दुकान पर काम करता था. उसी ने हिंसा की साजिश रची है. उसका आपराधिक रिकॉर्ड भी रहा है. 

Jahangirpuri Violence: कौन है जहांगीरपुरी हिंसा का आरोपी अंसार? जिसने कोर्ट जाते समय दिखाई पुष्पा स्टाइल

मुख्य साजिशकर्ता का रहा है आपराधिक रिकॉर्ड

नॉर्थ वेस्ट जिले के डीसीपी उषा रंगनानी (Usha Rangnani) ने कहा है कि जांच के दौरान एक साजिशकर्ता मोहम्मद अंसार (Mohd Ansar) को गिरफ्तार किया गया है. आरोपी की उम्र 35 साल है. वह जहांगीरपुरी के बी ब्लॉक में रहता है. आरोपी पहले भी मारपीट के दो मामलों में शामिल था. आरोपी को प्रिवेंशन सेक्शन्स के तहत गिरफ्तार भी किया गया था. उस पर जुआ और आर्म्स एक्ट के तहत भी केस दर्ज किया जा चुका है. केस की जांच जारी है.

पुलिस ने दावा किया है कि गिरफ्तार लोगों के पास से 3 हथियार और 5 तलवारें बरामद हुई हैं. गिरफ्तार हुए 8 आरोपियों का पुराना क्रिमिनल रिकॉर्ड रहा है. कुछ दंगा में भी शामिल थे तो कुछ लोगों पर हत्या के प्रयासों के तहत भी केस दर्ज किया जा चुका है.

कैसे भड़की हिंसा?

इंस्पेक्टर राजीव रंजन सिंह की शिकायत के आधार पर जहांगीरपुरी पुलिस स्टेशन में FIR दर्ज किया गया है. रजिस्टर्ड FIR में कहा गया है कि मोहम्मद अंसार अपने 4 से 5 सहयोगियों के साथ आया था फिर अचानक बहस करने लगा. दोनों तरफ से पथराव किया गया था. फिर हिंसा भड़क गई और पथराव तेज हो गया.

Delhi Violence: जहांगीरपुरी हिंसा में अवैध प्रवासियों को दोषी क्यों ठहरा रही है BJP? समझें वजह

पुलिस ने दोनों पक्षों से शांति की अपील की थी. पहले लोग मान गए लेकिन फिर तितर-बितर हो गए. दोनों पक्षों की ओर से नारेबाजी और पथराव हुआ. पुलिस ने कंट्रोल रूम को सूचित किया जिसके बाद बड़ी संख्या में पुलिस बल मौके पर पहुंचे. पुलिस ने 40-50 आंसू के गोले दागे हैं. हमले में कम से कम 8 पुलिसकर्मी घायल हुए हैं वहीं आम नागिरक भी चोटिल हुए हैं.

कौन हैं मुख्य आरोपी?

पुलिस ने मोहम्मद अंसार और असलम के अलावा जाहिद, शाहजाद, मुख्तार अली, मोहम्मद अली, आमिर, अक्सर, नूर आलम भी गिरफ्तार हुए हैं. पुलिस ने जाकिर, मोहम्मद अकरम, मोहम्मद इम्तियाज, मोहम्मद अली, अहिद खान, सलीम, शेख सौरभ, सूरज, नीरज, सुकेन, सुरेश और सुजीत सरकार को गिरफ्तार किया है. ज्यादातर आरोपियों का क्रिमिनल रिकॉर्ड है.

गूगल पर हमारे पेज को फॉलो करने के लिए यहां क्लिक करें. हमसे जुड़ने के लिए हमारे फेसबुक पेज पर आएं और डीएनए हिंदी को ट्विटर पर फॉलो करें

देश और दुनिया की ख़बर, ख़बर के पीछे का सच, सभी जानकारी लीजिए अपने वॉट्सऐप पर-  DNA को फॉलो कीजिए

Live tv

पसंदीदा वीडियो