Twitter
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

Maharashtra Politics: उद्धव समर्थक 14 विधायकों की याचिका पर आज SC में सुनवाई, अयोग्यता के नोटिस को दी है चुनौती

Uddhav vs Shinde: महाराष्ट्र विधानसभा के स्पीकर ने उद्धव ठाकरे के समर्थक शिवसेना के 14 विधायकों को अयोग्यता की नोटिस जारी किया था. उद्धव समर्थक विधायकों ने स्पीकर की नोटिस को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है.  

Latest News
article-main

सुप्रीम कोर्ट 

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

TRENDING NOW

डीएनए हिंदीः महाराष्ट्र में शिवसेना (Shivsena) की सियासी खींचतान एक बार फिर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) पहुंच गई है. उद्धव ठाकरे और मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे (Eknath Shinde) के बीच तकरार कम होने का नाम नहीं ले रही है. उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) गुट के 14 विधायकों ने महाराष्ट्र विधानसभा के स्पीकर की ओर से जारी अयोग्यता नोटिस को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है. सुप्रीम कोर्ट आज इस मामले की सुनवाई करेगा. मुख्य न्यायाधीश एनवी रमणा (N. V. Ramana) समेत तीन जजों की बेंच याचिकाओं पर सुनवाई करेगी. इस मामले का फैसला महाराष्ट्र की सरकार का भविष्य भी तय करेगा. 

40 बागी विधायकों के साथ बनाई थी सरकार 
मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने शिवसेना के 40 बाघी विधायकों के साथ महाराष्ट्र में सरकार बना ली थी. इसके बाद उद्धव गुट इस मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट पहुंचा था. उद्धव गुट के विधायकों की ओर से दायर याचिका में ये कहा गया है कि उनके खिलाफ अयोग्यता की कार्यवाही एक दागी विधायक की ओर से शुरू की गई है. ऐसे विधायक की ओर से अयोग्यता की कार्यवाही शुरू की गई है जो खुद अयोग्यता की कार्यवाही का सामना कर चुका है.

ये भी पढ़ेंः लोकसभा में भी पार्टी गंवा बैठे उद्धव ठाकरे, स्पीकर ने शिंदे गुट के राहुल शेवाले को माना शिवसेना का नेता

शिंदे गुट ने जीता था स्पीकर का पद
बता दें कि इस मामले को लेकर उद्धव गुट पहले भी कोर्ट पहुंचा था. तब कोर्ट ने महाराष्ट्र विधानसभा के स्पीकर को अयोग्यता के संबंध में कोई फैसला नहीं लेने के निर्देश दिए गए थे. 3 जुलाई को भाजपा के राहुल नार्वेकर स्पीकर के तौर पर चुने गए थे. राहुल नार्वेकर के पक्ष में 164 वोट डाले गए थे जबकि, उद्धव कैंप के शिवसेना उम्मीदवार राजन साल्वी के खाते में 107 वोट डाले गए थे. फ्लोर टेस्ट से एक दिन पहले नार्वेकर ने भरत गोगावले को शिवसेना का चीफ व्हिप बनाया था. सुनील प्रभु को हटाकर गोगावले को यह जिम्मेदारी सौंपी गई थी. इसके बाद से ही दोनों गुटों में लगातार टकराव जारी है. 

देश-दुनिया की ताज़ा खबरों Latest News पर अलग नज़रिया, अब हिंदी में Hindi News पढ़ने के लिए फ़ॉलो करें डीएनए हिंदी को गूगलफ़ेसबुकट्विटर और इंस्टाग्राम पर.

देश और दुनिया की ख़बर, ख़बर के पीछे का सच, सभी जानकारी लीजिए अपने वॉट्सऐप पर-  DNA को फॉलो कीजिए

Live tv

पसंदीदा वीडियो