Twitter
Advertisement
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

कौन है गैंगस्टर कपिल सांगवान, जिसने ली नफे सिंह राठी की हत्या की जिम्मेदारी

Gangster Kapil Sangwan: गैंगस्टर कपिल सांगवान को 2014 में पुलिस ने आर्म्स एक्ट के तहत गिरफ्तार किया था. लेकिन पेरोल बाहर आने के बाद वह भारत से ब्रिटेन फरार हो गया था.

Latest News
article-main

गैंगस्टर कपिल सांगवान ने कराई नफे सिंह राठी की हत्या

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

हरियाणा में इंडियन नेशनल लोकदल (INLD) के प्रदेश प्रमुख नफे सिंह राठी की 25 फरवरी को गोली मारकर हत्या कर दी गई थी.  जिस वक्त वारदात हुई वह एक कार्यक्रम में शिरकत करने के लिए बहादुरगढ़ जा रहे थे. तभी रास्ते में बदमाशों ने उनपर करीब 20 राउंड फायरिंग की. जिनमें से नफे सिंह को तीन गोलियां लगी और उनकी मौत हो गई. इस हत्यांकाड की जिम्मेदारी लंदन में बैठे गैंगस्टर कपिल सांगवान (Gangster Kapil Sangwan) ने ली है. सांगवान ने सोशल मीडिया पर पोस्ट कर कहा कि उसने नफे सिंह को मरवाया था.

गैंगस्टर कपिल सांगवान ने कहा कि जो मेरे दुश्मनों का सपोर्ट करेगा उसके लिए मेरी 50 गोलियां इंतजार करेंगी. नफे सिंह की गैंगस्टर मंजीत महल के साथ गहरी दोस्ती थी. नफे सिंह और मंजीत का भाई जमीनों पर कब्जा करने का काम करता था. उन्होंने मेरे दुश्मन से हाथ मिलाया था, इसलिए उनका अंजाम ऐसा हुआ. 

सांगवान ने कहा कि नफे सिंह ने पावर में रहकर लोगों की जमीन पर कब्जा और कई हत्याएं कराई. इसके बारे में पूरे बहादुरगढ़ को पता है. लेकिन उसकी पावर की वजह से कोई उसको हाथ तक नहीं लगा पाया. गैगस्टर ने कहा कि अगर पुलिस मेरे जीजा और दोस्त के मर्डर पर कार्रवाई करती तो मुझे यह नहीं करना पड़ता.

कौन है गैंगस्टर Kapil Sangwan?
कपिल सांगवान उर्फ ​​नंदू नजफगढ़ के नंदा Enclave है. कपिल ने शुरुआती पढ़ाई विकासपुरी से की और फिर गुरुग्राम में एमिटी यूनिवर्सिटी से होटल मैनेजमेंट का कोर्स किया. उसकी शुरू से ही दिलचस्पी क्राइम की दुनिया में जाने की थी. सांगवान पर हत्या, रंगदारी, हथियार के दम पर लोगों से उगाही, आर्म्स एक्ट जैसे कई मामले दर्ज है.  2014 में पुलिस ने आर्म्स एक्ट के तहत उसे गिरफ्तार किया था. लेकिन पेरोल बाहर आने के बाद वह फरार हो गया था.

पुलिस की मानें तो कपिल सांगवान 2020 में फर्जी पासपोर्ट पर भारत से यूके फरार हो गया था. इसके बाद उसके खिलाफ रेड कॉर्नर नोटिस भी जारी किया गया था. फिलहाल वह लंदन में बैठकर क्राइम का नेटवर्क चला रहा है. वह ब्रिटेन में बैठकर भारत में जुर्म की वारदातों को अंजाम दे रहा है.

देश-दुनिया की ताज़ा खबरों Latest News पर अलग नज़रिया, अब हिंदी में Hindi News पढ़ने के लिए फ़ॉलो करें डीएनए हिंदी को गूगलफ़ेसबुकट्विटर और इंस्टाग्राम पर.

Advertisement

Live tv

Advertisement
Advertisement