Twitter
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

Delhi Riots: नफरती भाषण के आरोपों पर सोनिया ने दिया बड़ा बयान, बोलीं- मुझे और राहुल को निशाना बनाया जा रहा

दिल्ली हाईकोर्ट में दायर एक याचिका में दिल्ली दंगों के लिए सोनिया और राहुल गांधी के भाषणों को भी जिम्मेदार ठहराया गया है. इसको लेकर अब सोनिया गांधी ने हाइकोर्ट में हलफनामा दायर किया है.

article-main

डीएनए हिंदी वेब डेस्क

Updated: Aug 30, 2022, 06:11 PM IST

Edited by

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

TRENDING NOW

डीएनए हिंदी: सीएए और एनआरसी (CAA-NRC) को लेकर हुए आंदोलन के दौरान दिल्ली में हुई हिंसक घटनाओं के बीच कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी और राहुल गांधी (Sonia Gandhi & Rahul Gandhi) पर भी भड़काऊ बयान देने का आरोप है. इसको लेकर दिल्ली हाइकोर्ट (Delhi High Court) में दायर एक याचिका पर जवाब देते हुए सोनिया गांधी ने हलफनामा दायर किया है. सोनिया ने कहा है कि उन्हें और राहुल गांधी को जानबूझकर टारगेट किया जा रहा है. 

दिल्ली हाईकोर्ट में दाखिल हलफनामे में सोनिया गांधी और राहुल गांधी ने हलफनामे में याचिका का विरोध करते हुए कहा गया है कि उन्होंने ऐसा कोई बयान नहीं दिया था. इसके साथ ही इसमें यह भी कहा गया है कि इस मामले उनके खिलाफ जो एफआईआर दर्ज करने की मांग की गई है, उसे खारिज किया जाए.

दुमका में लड़की ने ठुकराया प्रपोजल तो सिरफिरे ने जिंदा जलाया, इलाके में तनाव, धारा 144 लागू

बीजेपी नेताओं पर भी हैं आरोप

गौरतलब है कि शेख मुजतबा फारूक की ओर से दायर की गई है. इसमें भाजपा नेताओं अनुराग ठाकुर, कपिल मिश्रा, परवेश वर्मा और अभय वर्मा के खिलाफ कथित हेट स्पीच को लेकर एफआईआर दर्ज करने का अनुरोध किया गया है. इस मामले में बीजेपी नेताओं को कई नारे उस दौरान काफी चर्चा में भी रहे थे. 

वहीं दूसरी ओर ‘लॉयर्स वॉइस’ द्वारा जारी याचिका में हेट स्पीच के लिए कांग्रेस नेताओं सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के साथ-साथ दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया, आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्ला खान, एआईएमआईएम नेता ओवैसी, एआईएमआईएम के पूर्व विधायक वारिस पठान, महमूद प्राचा, हर्ष मंदर, मुफ्ती मोहम्मद इस्माइल, अभिनेत्री स्वरा भास्कर, उमर खालिद के खिलाफ कार्रवाई की मांग की गई है.

सगे भाइयों ने गैंगरेप के बाद की बहन की हत्या, विरोध करने पर दादी का भी बलात्कार

फरवरी 2020 में हुए थे दंगे

आपको बता दें कि उत्तर-पूर्वी दिल्ली में फरवरी 2020 में हुए दंगों से जुड़ी विभिन्न याचिकाओं पर हाईकोर्ट सुनवाई कर रहा है. इस मामले में दो याचिकाएं दाखिल की गई हैं जिनमें भड़काऊ भाषण देने वाले राजनेताओं के खिलाफ कार्रवाई का अनुरोध किया गया है साथ ही उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की बात भी कही गई है.

देश-दुनिया की ताज़ा खबरों Latest News पर अलग नज़रिया, अब हिंदी में Hindi News पढ़ने के लिए फ़ॉलो करें डीएनए हिंदी को गूगलफ़ेसबुकट्विटर और इंस्टाग्राम पर. 

देश और दुनिया की ख़बर, ख़बर के पीछे का सच, सभी जानकारी लीजिए अपने वॉट्सऐप पर-  DNA को फॉलो कीजिए

Live tv