Twitter
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

Blood Sugar High After Meal: खाने के तुरंत बाद बढ़ जाता है ब्लड शुगर? डायबिटिज रोगी इन 3 कारण को जान लें

Insulin Slow Work in Blood: क्या आपका खाते ही ब्लड शुगर बहुत हाई हो जाता है? ऐसा क्यों होता है और इसे कैसे कंट्रोल करें चलिए जानें.

article-main

ऋतु सिंह

Updated: Nov 10, 2022, 07:14 AM IST

Edited by

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

TRENDING NOW

डीएनए हिंदीः यदि आपको टाइप 1 या टाइप 4 मधुमेह ( Type 1 or Type 2 Diabetes) है तो आपको खाने से पहले नियमित रूप से अपने शुगर के स्तर ( Blood Sugar Level) की जांच करनी चाहिए. खाने से पहने भले आप दवा या इंसुलिन (Before Meal Insulin) ले रहे हों, बावजूद आपको कई बार न केवल खाने के बाद बल्कि खाने से पहले भी शुगर की जांच कर लेनी चाहिए. खाने के बाद वैसे ताे सभी का शुगर हाई ( High Sugar)होता है लेकिन डायबिटिज (Diabetes) वालों में इसके ज्यादा हाई होता है. 

खाने के बाद अगर आपका शुगर लेवल ज्यादा ही हाई हो रहा और दवा भी इसे मैनेज नहीं (After Meal Suger High) कर पा रही तो समझ लें इसके पीछे क्या वजह हो सकती है और इसे कैसे काबू में किया जा सकता है. 

Diabetes Remedy: रोज सुबह चबा लें ये 2 हरी पत्तियां, ब्‍लड शुगर ही नहीं, मीठे की तलब भी घटती जाएगी

खाने के दौरान की गई ये गलतियां बढ़ाती हैं शुगर
खाने के बाद शुगर थोड़ हाई होना नार्मल है लेकिन अगर ये बहुत ज्यादा और बार-बार बढ़ रहा तो इसके पीछे वजह कई होती हैं. कई बार ब्लड में ग्लूकोज का लेवल लंबे समय तक हाई रहता है. इसके पीछे क्या वजह हो सकती है, चलिए पहले ये जान लें. 
अगर आप खाने में बहुत ज्यादा कार्ब्स ले रहे तो संभवत आपका शुगर लंबे समय तक ब्लड में हाई बना रहेगा.

  • अगर आपके खाने में रफेज की मात्रा कम हैं.
  • अगर आप एक बार में बहुत ज्यादा खाना खा रहे हैं. 
  • अगर आप खाने के बाद तुरंत लेट जाते हैं या कोई चहलकदमी नहीं करते.
  • अगर खाने में शुगर कंटेंट वाली चीजें ज्यादा है.
  • अगर आप खाने के साथ फलों का रस ले रहें हैं.

Blood Sugar Facts : उम्र के अनुसार बदलती है शुगर की रेंज, जानिए प्री-डायबिटीज का संकेत

इस वजह से खाने के बाद तेजी से शुगर लंबे समय तक रहता है हाई
ये बात जान लें कि अगर आप रफेज की मात्रा खाने में कम करेंगे तो खाना पेट में जाते ही ग्लूकोज में कंवर्ट होकर ब्लड में जाने लगेगा और खाने के बाद जिन्हें डायबिटीज नहीं हैं उनके तो ब्लड में इंसुलिन तुरंत एक्टिवेट हो जाता है लेकिन जिन्हें शुगर की बीमारी है उनके ब्लड में खाने के बहुत देर बाद इंसुलिन एक्टिवेट होता है. कई बार ब्लड में इंसुलीन को एक्टिवेट होने में आधे घंटे से भी ज्यादा समय लग जाता है. 

कैसे करें इसे कंट्रोल
खाने के बाद शुगर हाई न हो इसके लिए कुछ बातों का ध्यान देना होगा. खाने को समय एक हो और खाने से पहले  ली जाने वाली दवा का अंतराल सही हो. साथ ही खाने की थाली में तीन हिस्सा रफेज का हो. हाई फाइबर डाइट पेट में लंबे समय रहेगी और इससे खाना धीरे-धीरे टूट कर ग्लूकोज में तब्दील होगा. ब्लड में तब कि इंसुलिन एक्टिवेट हो जाएगा और दवा भी ग्लूकोज को रेग्युलेट करेगी. खाने के बाद आराम करने के बजाय धीमी गति में टहलें चाहें तो घर के ही काम करते रहे. बस आप एक्टिव रहें. ये तीन उपाय आपके शुगर के लेवल को मेंटेन रखेंगे.  

इन बातों पर भी ध्यान दें

कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाले खाद्य पदार्थों का चयन करें
सफेद ब्रेड, चावल और नाश्ते के अधिकांश अनाज में उच्च ग्लाइसेमिक इंडेक्स होता है, जिससे ग्लूकोज बहुत जल्दी ब्लड में पहुंच जाता है. इसलिअ ओट्स, होल-व्हीट ब्रेड, पास्ता और मटर जैसे लो-ग्लाइसेमिक-इंडेक्स वाले खाद्य पदार्थों का चयन करें. इससे शुगर हाई होने बच सकते हैं या उसे कम कर सकते हैं क्योंकि इंसुलिन समान दर से कार्य करता रहेगा.

Blood Sugar बढ़ने के 3 लक्षण सिर्फ रात में आते हैं नजर, रहें सतर्क

उचित समय पर उचित इंसुलिन लें
डायबिटीज जिसे न हो उसके शरीर में अपने आप इंसुलिन बनाता है और खाते ही कुछ सेकंड में रक्त तक पहुंचता है, तेजी से ग्लूकोज को नियंत्रित करता है लेकिन जिसे डायबिटिज होता है उसके ब्लड में इंसुलिन को काम करना शुरू करने में 15 मिनट से भी ज्यादा समय लग सकता है, इसलिए समय पर इंसुलिन लें.

ब्लड में ग्लूकोज़ को कम करने के लिए खाने से 15-20 मिनट पहले इंजेक्शन लगाने की सलाह दी जाती है, क्योंकि हम त्वचा के ठीक नीचे (उपचर्म) वसा में इंसुलिन इंजेक्ट करते हैं. आप जो खाना खा रहे हैं उसके ग्लाइसेमिक इंडेक्स और आपके भोजन से पहले ब्लड ग्लूकोज रीडिंग के आधार पर आप समय चुन सकते हैं.

 

Disclaimer: हमारा लेख केवल जानकारी प्रदान करने के लिए है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें.) 

देश-दुनिया की ताज़ा खबरों Latest News पर अलग नज़रिया, अब हिंदी में Hindi News पढ़ने के लिए फ़ॉलो करें डीएनए हिंदी को गूगलफ़ेसबुकट्विटर और इंस्टाग्राम पर

देश और दुनिया की ख़बर, ख़बर के पीछे का सच, सभी जानकारी लीजिए अपने वॉट्सऐप पर-  DNA को फॉलो कीजिए

Live tv