Twitter
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

कब कराया था Aadhaar Update? जानिए आधार अपडेट का आसान तरीका

Aadhaar Card Update: यूआईडीएआई के अनुसार आधार संख्या का उपयोग विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ उठाने के लिए किया जाता है. 

article-main
FacebookTwitterWhatsappLinkedin

TRENDING NOW

डीएनए हिंदी: भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) ने उन आधार धारकों से आग्रह किया है, जिन्हें 10 साल से अधिक समय पहले यूनिक आईडी जारी किया गया था, वे अपने दस्तावेजों को अपडेट करने के लिए कहें. यूआईडीएआई ने एक बयान में कहा, "कोई भी व्यक्ति जिसने 10 साल पहले अपना आधार बनवाया था और बाद के किसी भी वर्ष में जानकारी को अपडेट नहीं किया था, उससे दस्तावेज़ अपडेट (Document Update) करने का अनुरोध किया जा रहा है." आधार नंबर जारी करने वाली सरकारी एजेंसी यूआईडीएआई ने हालांकि यह नहीं बताया कि क्या यह अपडेशन अनिवार्य है. यूआईडीएआई के अनुसार आधार संख्या का उपयोग विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ उठाने के लिए किया जाता है. व्यक्तियों से आधार को अपडेट रखने की अपेक्षा की जाती है ताकि आधार-आधारित प्रमाणीकरण में कोई बाधा न हो.

अपना आधार कार्ड डिटेल कैसे अपडेट करें
-यूआईडीएआई ने कहा कि व्यक्ति अपने पहचान के प्रमाण और पते के प्रमाण को इसके ऑनलाइन और साथ ही आधार केंद्रों पर अपडेट कर सकते हैं.
- आवश्यक शुल्क के भुगतान पर पहचान दस्तावेज और निवास के प्रमाण को अपडेट किया जा रहा है.
-इस सुविधा को माई आधार पोर्टल पर या नजदीकी आधार केंद्र पर जाकर एक्सेस किया जा सकता है.

Jeevan Pramaan Patra: इन 6 ऑनलाइन तरीकों से पेंशनर्स सब्मिट कर सकते हैं लाइफ सर्टिफिकेट 

आधार कार्ड के डिटेल की लिस्ट जिसे अपडेट किया जा सकता है
1) नाम
2) पता
3) जन्म तिथि और लिंग
4) मोबाइल फोन नंबर, ईमेल अड्रेस 
5) रिश्ते की स्थिति
6) आइरिस
7) फिंगरप्रिंट
8) फोटो

Diwali 2022: भारतीय रेलवे चलाएगा स्पेशल ट्रेनें, यहां देखें डिटेल

आपको अपना आधार कार्ड डिटेल कब अपडेट कराना चाहिए?
अगर ऊपर दी गई लिस्ट में से आपके आधार डाटाबेस में कोई बदलाव है जिसे शामिल करने की जरुरत है, तो आपको बाद में किसी भी परेशानी से बचने के लिए इसे अपडेट करवाना चाहिए. यूआईडीएआई की सलाह है कि सभी निवासियों को हर 10 साल में अपना बायोमेट्रिक डाटा अपडेट करवाना चाहिए जो उम्र, बीमारी या दुर्घटना के कारण बदल सकता है. बच्चों के लिए, आपको यह ध्यान रखने की आवश्यकता है कि यदि आपने अपने बच्चे को आधार के लिए नामांकित कराया है, जब वह 5 वर्ष से कम उम्र का था, तो आपको बायोमेट्रिक रिकॉर्ड कम से कम दो बार अपडेट करना होगा - एक 5 वर्ष की आयु पार करने के बाद और दूसरा एक 15 साल पूरे करने के बाद.

देश-दुनिया की ताज़ा खबरों Latest News पर अलग नज़रिया, अब हिंदी में Hindi News पढ़ने के लिए फ़ॉलो करें डीएनए हिंदी को गूगलफ़ेसबुकट्विटर और इंस्टाग्राम पर.

देश और दुनिया की ख़बर, ख़बर के पीछे का सच, सभी जानकारी लीजिए अपने वॉट्सऐप पर-  DNA को फॉलो कीजिए

Live tv

पसंदीदा वीडियो