Twitter
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

EPFO ने कर्मचारियों को दिया तोहफा, PF पर बढ़ा इतना ब्याज, जानिए कितना

EPFO ने मार्च 2022 में ब्याज दर घटाकर 8.1 प्रतिशत किया था. कई दशक में यह पहली बार था जब दरें इतनी कम की गई हों.

Latest News
article-main

EPFO ने जमा निधि पर बढ़ाई ब्याज दरें.

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

TRENDING NOW

EPFO News: कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) ने सरकारी और प्राइवेट कर्मचारियों को बड़ा तोहफा दिया है. साल 2023-24 के लिए कर्मचारी भविष्य निधि (EPF) जमा पर ब्याज की दरें बढ़ा दी है. शनिवार को EPFO ने इसे बढ़ाकर 8.25 प्रतिशत कर दिया है. बीते 3 साल में यह पहली बार है जब दरें इस तरह से बढ़ाई गई हों. EPFO ने मार्च 2023 में 2022-23 के लिए EPF पर ब्याज दर बढ़ाकर 8.15 प्रतिशत किया था. साल 2021-22 में यह दर 8.10 प्रतिशत थी.

EPFO ने मार्च, 2022 में 2021-22 के लिए EPF पर ब्याज दर को घटाकर 8.1 प्रतिशत कर दिया था, जो चार दशक में सबसे कम थी. EPF पर ब्याज दर 2020-21 में 8.5 प्रतिशत थी. इससे पहले 1977-78 के लिए EPF ब्याज दर आठ प्रतिशत थी. 

कितने कर्मचारियों को मिलेगा लाभ?
केंद्रीय श्रम एवं रोजगार मंत्री भूपेन्द्र यादव की अध्यक्षता में शनिवार को EPFO के सेंट्रल ट्रस्टी बोर्ड (CBT) की 235वीं बैठक बुलाई गई. लगभग आठ करोड़ सदस्यों के लिए 2023-24 के लिए ब्याज दर बढ़ाने का निर्णय लिया गया. 

इसे भी पढ़ें- Lok Sabha Election 2024: विदाई भाषण में अनुच्छेद 370, राम मंदिर का जिक्र कर PM Modi ने फूंक दिया चुनावी बिगुल

श्रम मंत्रालय ने क्या कहा है?
श्रम मंत्रालय ने कहा है, 'CBT ने 2023-24 के लिए सदस्यों के खातों में EPF कलेक्शन पर 8.25 प्रतिशत की वार्षिक ब्याज दर जमा करने की सिफारिश की. वित्त मंत्रालय की मंजूरी के बाद इस ब्याज दर को आधिकारिक तौर पर सरकारी गजट में अधिसूचित किया जाएगा. EPFO अपने सदस्यों के खातों में स्वीकृत ब्याज दर जमा करेगा.

यह भी पढ़ें: 17वीं लोकसभा का आखिरी भाषण, मोदी ने किया 'रिफॉर्म, परफॉर्म और ट्रांसफॉर्म' का जिक्र

चुनाव से पहले श्रम मंत्रालय का बड़ा फैसला
अप्रैल-मई में लोकसभा चुनाव होने वाले हैं. मौजूदा वित्त वर्ष के लिए बोर्ड ने EPF सदस्यों के खातों में 13 लाख करोड़ रुपये की कुल मूल राशि पर 1,07,000 करोड़ रुपये वितरित करने की सिफारिश की है. यही राशि 2022-23 में 11.02 लाख करोड़ रुपये की मूल राशि पर 91,151.66 करोड़ रुपये थी. वितरण के लिए अनुशंसित कुल आय रिकॉर्ड पर सबसे अधिक है. (इनपुट: भाषा)

देश-दुनिया की ताज़ा खबरों Latest News पर अलग नज़रिया, अब हिंदी में Hindi News पढ़ने के लिए फ़ॉलो करें डीएनए हिंदी को गूगलफ़ेसबुकट्विटर और इंस्टाग्राम पर.

देश और दुनिया की ख़बर, ख़बर के पीछे का सच, सभी जानकारी लीजिए अपने वॉट्सऐप पर-  DNA को फॉलो कीजिए

Live tv