Twitter
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

Money Saving Tips: इन फिल्मों से सीखें निवेश करने की कला वरना हो जाएंगे बर्बाद

Money Saving Tips: भारतीय फिल्मों में कुछ ऐसे फिल्म भी हैं जो हमें निवेश के लिए जागरूक करती हैं.

Latest News
article-main

Money Saving Tips

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

TRENDING NOW

डीएनए हिंदी: पैसे कमाने की ख्वाहिस तो हम सभी रखते हैं लेकिन पैसे बचाने कैसे हैं इसके बारे में कुछ खास नहीं सोचते हैं. PF से लेकर SIP, FD हर जगह पैसे निवेश करने की सोचते हैं. लेकिन समस्या ये है कि बहुत कम लोग बचत को आदत बना पाते हैं. कोरोना महामरी या अभी के समय में चल रहे छंटनी से भी अगर आपको सबक नहीं मिला है तो हम कहेंगे संभल जाइए और पैसे बचाने की आदत (Money Saving Tips) डालनी शुरू कर दें. कई बार हमें सिल्वर स्क्रीन यानी कि फिल्मों के जरिए भी निवेश को लेकर करने वाली गलतियों के बारे में पता चलता है. आइए जानते हैं पैसे से जुड़ी कौन सी गलती करने से हमें बचना चाहिए.

अवतार फिल्म

अवतार साल 1983 में राजेश खन्ना स्टारर फिल्म है. इस फिल्म में हीरो अपने तीनों बच्चों पर अपनी पूरी जमा-पूंजी लूटा देता है. लेकिन हीरो के बच्चे अपने माता-पिता की देखभाल करना बंद कर देते हैं. इससे एक सीख मिलती है कि कभी भी एक ही जगह निवेश नहीं करना चाहिए और अपने रिटायरमेंट के बाद के लिए भी जमा-पूंजी तैयार रखना जरूरी है. 

घरौंदा फिल्म

1977 में आई फिल्म घरौंदा आज के समय को बखूबी दर्शाता है. इस फिल्म में दो जोड़े घर खरीदने के लिए पैसे जमा करते हैं. इस दौरान उन्हें एक घर पसंद भी आता है लेकिन आज के कुछ बिल्डर्स की तरह उस जमाने में भी बिल्डर हुआ करते थे जो धोखा दे देते थे. बस, इस जोड़े का बिल्डर भी एन टाइम पर धोखा देकर पैसा लेकर भाग जाता है. इसलिए जब भी घर खरीदें हमेशा रियल एस्टेट डेवलपर्स के ट्रैक रिकॉर्ड की जांच करके ही निवेश करें.

बागबां फिल्म

साल 2003 में आई अमिताभ बच्चन और हेमा मालिनी की बागबां फिल्म ने घर-घर में लोगों को इमोशनल कर दिया था. इस फिल्म में माता-पिता के उस सिचुएशन को दिखाया गया है जहां वह अपने बच्चों की पढ़ाई और सुख-सुविधा के लिए पूरी सेविंग लूटा देते हैं. इस दौरान रिटायरमेंट के बाद वह बच्चों पर आश्रित हो जाते हैं जहां उन्हें तमाम परेशानियों का सामना करना पड़ता है. हालांकि उन्होंने बाद में भले ही रिटायर लोगों पर किताब लिख कर इनकम शुरू कर दी. लेकिन उन परेशानियों के दौर से गुजरने से एक बात साफ़ है कि कभी भी अपने रिटायरमेंट कि सेविंग को किसी भी हालत में समय से पहले ना तोड़ें.

यह भी पढ़ें:  7th Pay Commission: केन्द्रीय कर्मचारियों को लगा झटका, DA और DR पर लगी रोक

देश-दुनिया की ताज़ा खबरों Latest News पर अलग नज़रिया, अब हिंदी में Hindi News पढ़ने के लिए फ़ॉलो करें डीएनए हिंदी को गूगलफ़ेसबुकट्विटर और इंस्टाग्राम पर.

देश और दुनिया की ख़बर, ख़बर के पीछे का सच, सभी जानकारी लीजिए अपने वॉट्सऐप पर-  DNA को फॉलो कीजिए

Live tv