Twitter
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

UP Election 2022: जाति-पंथ नहीं, विकास BJP का चुनावी मुद्दा, जानें क्यों बोले Nitin Gadkari?

केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने यूपी विधानसभा चुनावों पर Zee News के साथ इंटरव्यू में बीजेपी की चुनावी रणनीतियों पर चर्चा की.

article-main

डीएनए हिंदी वेब डेस्क

Updated: Jan 07, 2022, 10:04 AM IST

Edited by

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

TRENDING NOW

डीएनए हिंदी: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के विधानसभा चुनावों (Assembly Election) में अब भारतीय जनता पार्टी (BJP) के दिग्गज नेताओं ने कमान संभाल ली है. यही वजह है कि केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) गुरुवार को अयोध्या (Ayodhya) दौरे पर थे. नितिन गडकरी ने गुरुवार को राम जन्मभूमि अयोध्या से भगवान श्री राम के वनवास स्थल चित्रकूट को जोड़ने वाले राम वन गमन मार्ग का शिलान्यास भी किया. केंद्रीय मंत्री ने Zee News के साथ बातचीत में बताया कि विधानसभा चुनावों को लेकर उनकी पार्टी की तैयारियां कैसी हैं.

नितिन गडकरी ने कहा है कि उनकी पार्टी विकास की राजनीति करती है इसलिए बीजेपी जाति या मजहब नहीं बल्कि विकास पर वोट मांगेगी. नितिन गडकरी ने इंटरव्यू में विपक्षी पार्टियों पर निशाना साधा और उन पर भ्रष्टाचार के कई आरोप भी लगाए.

नितिन गडकरी ने कहा, 'हम विकास पर वोट मांगेंगे, जाति पंथ पर नहीं. हम एक परिवार की पार्टी नहीं, बल्कि लोकतांत्रिक पार्टी हैं. पहली बात तो ये बीजेपी 2014 में सत्तारूढ़ पार्टी बनी है और 2014 से 2021 तक 7 साल का हमारा रिपोर्ट कार्ड जनता के हाथ में है. 1947 के बाद जो 60 साल में नहीं हुआ, कांग्रेस नहीं कर सकी वो काम मोदी सरकार ने किया. प्रयाग में गंगा पार पहले एक पुल बना था, आज 7-7 पुल बन रहे हैं. गंगा साफ हुई. हमने जो काम किया उसी काम पर वोट मांगेंगे.'

UP में हैं 100 साल से अधिक उम्र के 39,598 मतदाता, अलीगढ़ में हैं सबसे ज्यादा

'राम मंदिर नहीं है चुनावी एजेंडा'

विपक्षी पार्टियां चुनावी मौसम में बीजेपी के राम प्रेम को लेकर सवाल खड़े करती हैं. चुनाव के वक्त राम का मुद्दा और आगे बढ़ जाता है. विपक्ष हिंदू-मुस्लिम और राष्ट्रवाद की राजनीति को लेकर भी सवाल खड़े करते है. जब नितिन गड़करी से इस मुद्दे पर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि राम मंदिर बनाना पॉलिटिकल एजेंडा नहीं, करोड़ों भारतीयों की इच्छा है.

उन्होंने कहा, 'अयोध्या में राम मंदिर बनना राजनीतिक मुद्दा नहीं है, न ही हमारा पॉलटिकल एजेंडा है. ये देश के करोड़ों भारतीयों की इच्छा है. जहां राम का जन्म हुआ, वहीं मंदिर बने और ये कोर्ट के फैसले के बाद हो रहा है. अब ऐसा प्रश्न आप ही लोग सवाल पूछते हैं और फिर कहते हैं हम धर्म की राजनीति करते है. जैसा मैंने आप से कहा पहले यूपी में कानून की धज्जियां उड़ी, गुंडा राज और अंडरवर्ल्ड राज था. योगी जी ने जो माफिया के खिलाफ कार्रवाई की, क्या उससे कानून व्यवस्था स्थापित नहीं हुई.'

UP में किससे है BJP का सियासी मुकाबला?

नितिन गडकरी से जब सवाल किया गया कि यूपी में उनका मुकाबला किससे है तो उन्होंने कहा कि हर जगह अलग-अलग स्तर पर मुकाबला है. उन्होंने कहा, 'देखिए हर जगह की परिस्थिति अलग-अलग होती है. डिवीजन में अलग है और जिलों में अलग है. मेरा मानना है राजनीति में और लोकतंत्र में जिसको खड़ा होना है, खड़ा हो. वो आजमा ले, जनता की अदालत है वो तय करेगी.'

परशुराम पॉलिटिक्स पर क्या बोले केंद्रीय मंत्री?

जब उनसे सवाल पूछा गया कि यूपी में समाजवादी पार्टी भगवान परशुराम की मूर्ति लगाने की बात कर रही है. सपा का कहना है ब्राह्मण योगी से नाराज हैं लिहाजा सपा उनको पर्याप्त जगह देगी? नितिन गडकरी ने इस सवाल के जवाब में कहा, 'ऐसी राजनीति जातिवाद और साम्प्रदायिकता का जहर घोलती है. ये हमारी पार्टी का स्वभाव नहीं है. हम ये मानते हैं कि व्यक्ति उसकी जाति, पंथ, भाषा से बड़ा नहीं होता गुणों से बड़ा होता है. इसलिए सबका साथ, सबका विकास पर काम करते हैं.'

IT Raid पर क्या बोले नितिन गडकरी?

उत्तर प्रदेश में इनकम टैक्स डिपार्टमेंट एक बार फिर सक्रिय हो गया है. दूसरी एजेंसियों भी छापेमारी कर रही हैं. कई सपा नेता भी एजेंसियों की रडार में आए हैं. सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि बीजेपी हार से डर गई है लिहाजा छापे मारे जा रहे है. जब यह सवाल नितिन गडकरी से किया गया तो उन्होंने कहा कि एजेंसी अपना काम कर रही है. इसका हमारी सरकार या मंत्री से कोई लेना-देना नहीं है लेकिन ये बात सही है कि इसमें वो क्यों नहीं बोलते? रेड पड़ने के बाद क्या-क्या मिला इसके ऊपर क्यों नहीं बोलते? अगर कोई इनोसेंट है तो जांच में सामने आ जाएगा. जो अभी सामने आ रहा वो तो बड़ा खुलासा करने वाला है.

यह भी पढ़ें-
Covid: सीएम Yogi का कार्यक्रम और अयोध्या में Akhilesh Yadav की विजय रथ यात्रा रद्द
Punjab में किसने रोका था PM Narendra Modi का काफिला?

देश और दुनिया की ख़बर, ख़बर के पीछे का सच, सभी जानकारी लीजिए अपने वॉट्सऐप पर-  DNA को फॉलो कीजिए

Live tv