Twitter
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

भारतीय जज Dalveer Bhandari ने रूस के खिलाफ किया वोट, ICJ ने दिया फौरन युद्ध रोकने का आदेश

भारत ने रूस के खिलाफ संयुक्त राष्ट्र की वोटिंग में भाग नहीं लिया लेकिन अंतरराष्ट्रीय कोर्ट में भारतीय जज ने रूस के खिलाफ वोटिंग की है.

article-main

भारतीय जज दलवीर भंडारी ने रूस के खिलाफ वोटिंग की है.

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

TRENDING NOW

डीएनए हिंदीः रूस और यूक्रेन के खिलाफ जारी (Russia-Ukraine War) जंग का तीन सप्ताह बीतने के बाद भी कोई नतीजा नहीं निकला है. रूस लगातार यूक्रेन के अलग-अलग शहरों में बमबारी कर रहा है. ऐसे में यूक्रेन ने अंतरराष्ट्रीय कोर्ट (ICJ) की शरण ली है. ICJ ने रूस को तुरंत यूक्रेन से अपना मिलिट्री ऑपरेशन रोकने का आदेश दिया है. अंतरराष्ट्रीय कोर्ट में भारतीय जज जस्टिस दलवीर भंडारी ने रूस के खिलाफ वोट किया है.

ICJ में नामित होते रहे हैं जस्टिस भंडारी
रूस ने यूक्रेन पर 24 फरवरी को हमला किया था. इसके कुछ दिन बाद ही यूक्रेन (Ukraine) ने उसे संयुक्त राष्ट्र की शीर्ष अदालत में घसीटा था. भारत अभी तक इस मामले में तटस्थ भूमिका में था लेकिन ICJ में भारत के न्यायाधीश दलवीर भंडारी (Justice Dalveer Bhandari) ने भी रूस के खिलाफ अपना मतदान कर चौंका दिया है. 

यह भी पढ़ेंः Russia Ukraine War: यूक्रेन को और मजबूत करेगा अमेरिका, देगा 800 एंटी एयरक्राफ्ट, 9,000 एंटी आर्मर सिस्टम और हथियार

2 जजों ने किया रूस के पक्ष में वोट
यूनाइटेड नेशंस की सबसे बड़ी अदालत में इस मामले को लेकर 15 जजों ने वोटिंग की. इनमें से 13 जजों ने रूस के खिलाफ और 2 जजों ने रूस के पक्ष में मतदान किया है. भारत ने यूएन में यूक्रेन के जरिये इस मामले को हल करने पर जोर दिया है. 

ICJ ने क्या कहा
अंतरराष्ट्रीय कोर्ट ने रूस को यह सुनिश्चित करने को कहा है कि उसके समर्थन वाली दूसरी सेनाएं भी यूक्रेन में मिलिट्री ऑपरेशन नहीं करें. हालांकि यूएन का स्थायी सदस्य होने के कारण रूस के पास वीटो पावर हैं और वे अक्सर ICJ का आदेश नहीं मानते हैं.   

देश और दुनिया की ख़बर, ख़बर के पीछे का सच, सभी जानकारी लीजिए अपने वॉट्सऐप पर-  DNA को फॉलो कीजिए

Live tv