Twitter
  • LATEST
  • WEBSTORY
  • TRENDING
  • PHOTOS
  • ENTERTAINMENT

Sanctions On Russia : यूरोपियन यूनियन नहीं करने देगा रूस को अपने एयर स्पेस का इस्तेमाल, बाक़ी कड़े प्रतिबंध भी जानिए

यूरोपियन यूनियन के देशों ने रूस के साथ अपना एयर स्पेस साझा करने से भी मना कर दिया है. इसके अलावा भी रूस पर कई कड़े प्रतिबंध लगे हैं.

article-main

Russian President Vladimir Putin. (File Photo)

FacebookTwitterWhatsappLinkedin

TRENDING NOW

डीएनए हिंदी: यूक्रेन पर रूस के हमले से कई देश रूस से नाराज़ हैं. उन्होंने इस हमले को अमानवीय क़रार दिया है. अमेरिका सहित सहयोगी देशों और यूरोपियन यूनियन ने रूस के ख़िलाफ़ कड़े प्रतिबंध लगा दिए हैं.  यूरोपियन यूनियन (European Union)के देशों ने रूस के साथ अपना एयर स्पेस साझा करने से भी मना किया है. जानिए रूस के ऊपर लगाए गए सबसे कड़े प्रतिबंध  कौन से हैं - 

रूस के केंद्रीय बैंक पर प्रतिबंध - रूस पर लगे सबसे हालिया प्रतिबंधों में रूसी केंद्रीय बैंक के ऊपर लगा प्रतिबंध है. यूनाइटेड किंगडम और यूरोपियन यूनियन (European Union)दोनों ने घोषणा की है कि वे रूसी केंद्रीय बैंक को वहां उपलब्ध रिज़र्व में से 600 बिलियन USD से अधिक इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे. इसकी वजह से अंतर्राष्ट्रीय बाज़ार में रूबल की क़ीमत गिर जाएगी. 
 

Ukraine Russia War Live: बेलारुस में थोड़ी देर बाद शुरू होगी रूस-यूक्रेन के बीच बातचीत

SWIFT ट्रांसफर की अनुमति नहीं - रूसी बैंकों को SWIFT ट्रान्सफर सिस्टम से हटा दिया गया है. इसमें हर रोज़ कई-कई बिलियन डॉलर का ट्रान्सफर दुनिया भर में हुआ करता था. 

रूबल से अमेरिकी डॉलर के विनिमय  को ख़त्म करना - डॉलर अघोषित रूप से वर्तमान में दुनिया भर की मानद मुद्रा है. अमेरिका ने रूस के ऊपर लगाए गए अपने प्रतिबंधों में डॉलर और रूबल के विनिमय पर भी रोक लगा दिया है. इसका अर्थ यह हुआ कि रूबल के बदले में अमेरिकी डॉलर नहीं ख़रीदा जा सकता है या अमेरिकी डॉलर के बदले में रूबल नहीं ख़रीदा जा सकता है.  यह रूस की अर्थव्यवस्था के लिए समस्याप्रद हो सकता है. 

यूरोपियन यूनियन के देशों के द्वारा रूस के हवाई जहाज़ों के लिए एयर स्पेस ख़त्म करना

सबसे ताज़ा प्रतिबंधों में यूरोपियन यूनियन (European Union) के देशों द्वारा तय किया गया है कि रूसी जहाज़ों को वे अपना हवाई क्षेत्र इस्तेमाल नहीं करने देंगे. यह रूस की यातायात व्यवस्था के लिए बड़ा झटका साबित हो सकता है. 


 

देश और दुनिया की ख़बर, ख़बर के पीछे का सच, सभी जानकारी लीजिए अपने वॉट्सऐप पर-  DNA को फॉलो कीजिए

Live tv